Sunday, January 29, 2023
spot_img

अरुणाचल मुद्दे सियासत हुई तेज़, नीतीश कुमार बोले- मुझे नहीं रहना सीएम!

अरुणाचल प्रदेश में जनता दल यूनाइटेड के 6 विधायकों द्वारा पार्टी से बगावत कर भाजपा में शामिल होने के बाद बिहार की सियासत में उठापटक का दौर जारी है. इसी को लेकर बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने बड़ा बयान दिया है. जदयू के राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक के बाद नीतीश कुमार ने कहा कि “मुझे अब नहीं रहना सीएम”. NDA गठबंधन जिसे चाहे बना दे सीएम. बीजेपी का ही सीएम हो, मुझे इससे कोई फर्क नहीं पड़ता. मुझे किसी पद का मोह नहीं है. नीतीश कुमार के इस बयान ने बिहार में पड़ रहे कड़ाके की ठंड वाली सियासत में गर्माहट ला दी है.

whatsapp

राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में नीतीश कुमार ने संबोधित करते हुए कहा बिहार विधानसभा चुनाव के बाद मैंने अपनी इच्छा व्यक्त कर दी थी .मुझे मुख्यमंत्री बनने की कोई इच्छा नहीं थी, लेकिन मुझ पर काम करने के लिए दबाव था.

JDU ने कहा बीजेपी ने अच्छा नहीं किया

आपको बता दें कि आज जदयू की दो दिवसीय राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक हुई. आज इस बैठक का दूसरा और अंतिम दिन था. जनता दल यूनाइटेड के राज्यसभा सांसद आरपी सिंह जेडीयू के नए अध्यक्ष चुने गए. वहीं अरुणाचल प्रदेश की घटना को लेकर जनता दल यूनाइटेड के प्रधान महासचिव केसी त्यागी ने एक कॉन्फ्रेंस कर भाजपा को खरी-खरी सुनाई थी. जेडीयू के विधायकों को अरुणाचल के मंत्रिमंडल में शामिल करने की बात कही गई थी, लेकिन उन्होंने अपने पार्टी में ही शामिल कर लिया. इससे जदयू आहत है.

नीतीश कुमार का यह बयान अरुणाचल प्रदेश की घटना को जोड़कर देखा जा रहा है. माना जा रहा है कि बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार अरुणाचल प्रदेश की घटना को लेकर बेहद दुखी है. आपको बता दें कि अरुणाचल प्रदेश में जेडीयू ने 7 सीटों पर चुनाव लड़ा था और उन्होंने सातों सीटों पर जीत दर्ज की थी. बाद में जेडीयू के छह विधायक बीजेपी में शामिल हो गए.

whatsapp-group

Stay Connected

267,512FansLike
1,200FollowersFollow
1,000FollowersFollow
https://news.google.com/publications/CAAqBwgKMIuXogswzqG6Aw?hl=hi&gl=IN&ceid=IN%3Ahi

Latest Articles