Monday, February 6, 2023
spot_img

क्या राजनीति में एंट्री करेंगे सौरव गांगुली? एक घंटे तक चली राज्यपाल से मुलाक़ात

Highlights

whatsapp
  • सौरव गांगुली ने बंगाल के राज्यपाल से की मुलाकात
  • दादा को बीजेपी अपनी पार्टी में कराना चाहती है शामिल
  • ममता बनर्जी और सौरव गांगुली के बीच मुख्यमंत्री पद की टक्कर
  • बंगाल दौरे पर केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह
    चुनाव से पहले TMC को झटका कई MLA बीजेपी में शामिल
  • बंगाल फतह करने के लिए पूरा जोर लगा रही है बीजेपी

भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान और बीसीसीआई के अध्यक्ष सौरव गांगुली ने रविवार को पश्चिम बंगाल के राज्यपाल जगदीप धनखड़ से मुलाकात की. राजभवन के सूत्रों ने बताया कि इसका राजनीति से कोई लेना-देना नहीं सौरभ गांगुली का राज्यपाल से मुलाकात सिर्फ शिष्टाचार भेंट थी. आपको बता दें कि भाजपा के तरफ से सौरव गांगुली को पार्टी के प्रचार के लिए प्रस्ताव दिया गया था, लेकिन उन्होंने इससे साफ मना कर दिया. उल्लेखनीय है कि अप्रैल-मई में होने वाले बंगाल विधानसभा चुनाव के मद्देनजर दादा के राजनीति से जुड़ने के कयास लगाए जा रहे हैं.

सौरव रविवार शाम करीब 4.30 बजे राज्यपाल से मिलने पहुंचे. दोनों के बीच करीब एक घंटे तक बातचीत हुई. राजभवन सूत्रों से पता चला है कि सौरव निजी कारणों से मिलने पहुंचे थे, जिसका राजनीति से कोई सरोकार नहीं है. सौरव खुद भी कई बार कह चुके हैं कि उनकी फिलहाल राजनीति में आने की कोई योजना नहीं है.

सौरव गांगुली ने कहा

आपको बता दें कि बंगाल भाजपा सौरव को पार्टी में शामिल करने के लिए पूरा जोर लगा रही है. द टेलीग्राफ की एक रिपोर्ट के मुताबिक सौरभ गांगुली ने बीजेपी के सामने यह साफ कर दिया है कि वह एक्टिव पॉलिटिक्स में शामिल नहीं होना चाहते हैं और क्रिकेट प्रशंसक के तौर पर अपनी भूमिका से खुश है. सूत्रों के अनुसार गांगुली की ओर से इनकार किए जाने के बाद पार्टी ने उन पर मन बदलने के लिए कोई दबाव नहीं डाला है. सौरव गांगुली का पश्चिम बंगाल के मुख्यमंत्री ममता बनर्जी से अच्छे रिश्ते हैं.

whatsapp-group

क्या बोली TMC ?

जब तृणमूल कांग्रेस के सांसद सौगत राय से सौरव गांगुली के राजनीति में एंट्री के बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा- अगर दादा राजनीति में आते हैं तो ‘मुझे खुशी नहीं होगी’. उन्होंने कहा कि दादा सभी बंगालियों के लिए एक आइकन है, क्योंकि वह बंगाल से इकलौते क्रिकेट कप्तान रहे हैं. वह टीवी शो के कारण भी प्रसिद्ध है. अगर दादा राजनीति में आते हैं तो वह यहां नहीं टिक पाएंगे.

बंगाल मे पूरा जोर लगा रही है बीजेपी

अगले साल गर्मियों के मौसम में बंगाल की राजनीति गर्म रहेगी क्योंकि अगले साल विधानसभा चुनाव होने हैं. इसके लिए बीजेपी ने पूरी ताकत झोंक रखी है. बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा से लेकर गृह मंत्री अमित शाह लगातार बंगाल दौरे पर हैं. केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने राज्य का दौरा किया था जिसमें टीएमसी के कई बड़े नेता और विधायक बीजेपी में शामिल हुए थे. गृह मंत्री अमित शाह प्रेस कॉन्फ्रेंस में दावा भी कर चुके हैं कि बंगाल का ही कोई चेहरा बीजेपी की ओर से बंगाल में मुख्यमंत्री बनेगा.

Stay Connected

267,512FansLike
1,200FollowersFollow
1,000FollowersFollow
https://news.google.com/publications/CAAqBwgKMIuXogswzqG6Aw?hl=hi&gl=IN&ceid=IN%3Ahi

Latest Articles