Wednesday, February 1, 2023
spot_img

17 नए मंत्रियों में से 15 करोड़पति, जानें नीतीश मंत्रिमंडल में किसके पास है सबसे अधिक संपत्ति

करीब 84 दिनों के बाद 9 फरवरी को बिहार विधानमंडल के बजट सत्र के पहले नीतीश कुमार के मंत्रिमंडल का विस्तार हुआ। इसमें 17 मंत्रियों ने शपथ ली जिसमें भाजपा के 9 और जदयू के आठ मंत्री है। अब मंत्रिमंडल में मुख्यमंत्री सहित मंत्रियों की संख्या 31 हो गई है। इन मंत्रियों में से 15 करोड़पति हैं नीतीश कुमार के मंत्रिमंडल में भाजपा नेता नीरज कुमार बबलू सर्वाधिक 14 करोड़ रुपए की चल अचल संपत्ति के साथ सबसे अमीर नेता है जो कि बॉलीवुड के दिवंगत अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत के चचेरे भाई है। इसके अलावा बसपा से जीते हुए एकमात्र विधायक जो कि हाल ही में जदयू में शामिल हुए जमा खान के पास सबसे कम 30 लाख की संपत्ति है।

whatsapp

साल 2020 में बिहार विधानसभा चुनाव के दौरान निर्वाचन आयोग के समक्ष इन लोगों ने अपना संपत्ति का ब्यौरा दाखिल किया था उसके मुताबिक नीतीश के 17 में से 15 मंत्रियों के पास एक से 14 करोड़ की चल अचल संपत्ति है। वही नारायण प्रसाद सुनील और लेसी सिंह पर कोई केस नहीं है बाकी जितने भी मंत्रियों ने शपथ लिया हर किसी पर केस दर्ज है। नीरज कुमार बबलू के पास 14 करोड़ की चल अचल संपत्ति है। इसके अलावा सम्राट चौधरी के पास 7 करोड़, संजय झा के पास 8 करोड़, सुनील कुमार के पास 5 करोड़ों रुपए की चल अचल संपत्ति है।

इन नेताओं के पास है करोड़ों की संपत्ति

  • शाहनवाज हुसैन -392 करोड़
  • आलोक रंजन- 415 करोड़
  • प्रमोद कुमार- 383 करोड़
  • सुमित कुमार सिंह- 368 करोड़
  • सरवन कुमार- 239 करोड़
  • लेसी सिंह- 253 करोड़
  • मदन साहनी- 202 करोड़
  • सुभाष सिंह- 217 करोड़
  • नितिन नवीन- 174 करोड़
  • नारायण प्रसाद- 176 करोड़
  • जनक राम- 106 करोड़
  • जयंत राम- 61 लाख 67,889
  • मोहम्मद जमा खान- 30 लाख ( चल अचल संपत्ति)

आपको बता दें कि मंगलवार को भारतीय जनता पार्टी के 9 और जेडीयू के 8 नेताओं ने कैबिनेट मंत्री पद की शपथ ली। कुल मिलाकर पहले कैबिनेट विस्तार में 17 मंत्रियों ने शपथ ली। इसमें युवा और अनुभवी चेहरों को दोनों दलों ने तवज्जो दी। इस दौरान बीजेपी के कद्दावर नेता

  • शाहनवाज हुसैन- उद्योग विभाग
  • संजय कुमार झा- जल संसाधन विभाग सरवन कुमार- ग्राम ग्रामीण विकास मंत्री
  • लेसी सिंह- खाद उपभोक्ता मंत्री
  • मदन सहनी- समाज कल्याण मंत्री
  • प्रमोद कुमार- गन्ना उद्योग और विधि मंत्री
  • सम्राट चौधरी- पंचायती राज मंत्री
  • नीरज कुमार सिंह- पर्यावरण मंत्री
  • सुभाष सिंह- सहकारिता मंत्री
  • नितिन नवीन- पथ निर्माण मंत्री
  • सुमित कुमार सिंह- विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी मंत्रालय
  • सुनील कुमार- मद्य निषेध उत्पादन मंत्री नारायण प्रसाद- पर्यटन विभाग मंत्री
  • जयंत राज- ग्रामीण कार्य मंत्री
  • आलोक रंजन- कला संस्कृति और युवा मंत्री मोहम्मद जमा खान- अल्पसंख्यक कल्याण मंत्री
  • जनक राम- भूतत्व मंत्रालय का जिम्मा मिला है।

बिहार में नीतीश कुमार के पहले कैबिनेट विस्तार के बाद अब नीतीश मंत्रिमंडल में बीजेपी के मंत्रियों की संख्या 16 हो गई है वहीं जनता दल यूनाइटेड के मंत्रियों की संख्या 12 रह गई है। मंत्रियों की संख्या के लिहाज से नीतीश कुमार छोटे भाई की भूमिका में आ गए हैं। इसके लिए संविधान के नियम भी आड़े आ गए हैं जिसके मुताबिक सदन में कुल सदस्य की संख्या के लिहाज से 15% ही मंत्री बन सकते हैं। आपको बता दें कि इस वक्त बिहार विधानसभा में कुल 243 विधायक हैं और इसका 15% 36 होता है यानी की हर तीन विधायक पर एक मंत्री बन सकता है। अगर इस लिहाज से देखें तो बीजेपी के हिस्से में लगभग 22 और जेडीयू कोटे में 14 आते हैं। अभी तक नीतीश कुमार के पहले मंत्रिमंडल विस्तार तक बीजेपी के कोटे से 16 और एक VIP समेत 17 मंत्री है।

whatsapp-group

Stay Connected

267,512FansLike
1,200FollowersFollow
1,000FollowersFollow
https://news.google.com/publications/CAAqBwgKMIuXogswzqG6Aw?hl=hi&gl=IN&ceid=IN%3Ahi

Latest Articles