Monday, February 6, 2023
spot_img

शादी की बात पर वाजपेयी जी ने संसद में कहा- ‘मैं अविवाहित जरूर हूं, लेकिन कुंवारा नहीं.’

भारत रत्न और देश के पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी बाजपेई आज हमारे बीच मौजूद नहीं है. ऐसे नेता जिनके विरोधी भी प्रेम भरी नज़रों और सम्मान से देखते थे. अपनी कविताओं के जरिए वो हर बात को बड़े ही तरीके से कह जाते थे. वो भारतीय राजनीति के इतिहास में संपूर्ण व्यक्तित्व शिखर पुरुष थे. उनके जीवन से जुड़ा एक सवाल आज भी लोग और सोशल मीडिया पर पूछा जाता है कि अटल बिहारी वाजपेयी की पत्नी कौन है।. आखिर अटल बिहारी वाजपेयी ने शादी क्यों नहीं की? एक ओजस्वी वक़्ता, कवि, आज़ाद भारत के एक बड़े नेता और तीन बार देश के प्रधानमंत्री बने।

whatsapp

क्या वो जीवनभर अकेले थे.

उनकी शादी को लेकर कई सवाल थे जो उनसे और उनके परिवार से कई बार मीडिया बातचीत के दौरान पूछे गए. इस बात का जवाब संसद में भी अटल बिहारी वाजपेयी ने दिया था. उन्होंने विपक्ष के सवाल पर जवाब दिया कि “मैं अविवाहित हूं लेकिन कुंवारा नहीं” हूं. इस जवाब के बाद विपक्ष ने कभी उनसे उनकी शादी को लेकर ऐसा कोई सवाल जवाब नहीं पूछा. लेकिन इंटरव्यूज के दौरान इस सवाल के बारे में सबसे ज्यादा पूछा गया. 

खुद को कर लिया था कमरे में बंद

यह बात 1940 के दशक की है जब अटल बिहारी बाजपाई कानपुर के DAV कॉलेज में पोस्ट ग्रेजुएशन की पढ़ाई कर रहे थे. उस वक्त उनकी दोस्ती गोरेलाल त्रिपाठी के साथ थी. दोनों RSS की शाखा में जाते थे. जहां उनकी गहरी दोस्ती हुई. दिवंगत गोरेलाल त्रिपाठी के बेटे विजय प्रकाश ने अटल जी के जीवन से जुड़ा एक किस्सा साझा किया ‘उन्होंने बताया कि जब अटल जी को यह बात पता चली कि उनके माता-पिता शादी की तैयारी कर रहे हैं तो उन्होंने खुद को कमरे में बंद कर लिया.

whatsapp-group

एक इंटरव्यू के दौरान अटल बिहारी वाजपेयी ने हल्की सी मुस्कान के साथ जवाब दिया था कि व्यवस्तता के चलते ऐसा नहीं हो पाया था. इतना ही नहीं उनके रिश्तेदारों ने भी कहा कि राजनीतिक सेवा के लिए उन्होंने अपना जीवन समर्पित कर दिया. उन्होंने राष्ट्रीय, स्वंय सेवक संघ के लिए आजीवन अविवाहित रहना को जो वचन लिया था वो उस पर हमेशा अटल भी रहे.

मुखाग्नि देने वाली एक महिला

वापजेयी को मुखाग्नि देने वाली एक महिला थी और इन महिला का नाम है नमिता भट्टाचार्य. नमिता अटल बिहारी वाजपेयी की दत्तक पुत्री उनक. अब सवाल है कि आखिर जब वो अविवाहित रहे तो उनकी बेटी कहा से आई. उनके पास नमिता भट्टाचार्य नाम की एक बेटी थी, जो राजकुमारी कौल की बेटी हैं. नमिता की शादी रंजन भट्टाचार्य से हुई है. जो ओएसडी के रूप में काम कर रहे हैं. उनकी एक बेटी भी है जिसका नाम निहारिका है. जो अटलजी को नाना कहा करती थी.

अटल बिहारी बाजपेई जी के निधन के बाद पूरे देश में शोक की लहर दौड़ गई थी। जिसे देखो वह बाजपेई जी के भाषणों और कविताओं के जरिए उन्हें याद कर रहा था। बाजपेई जी के निधन के बाद तत्कालीन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी उन्हें याद करते हुए भावुक हो गए थें।

Stay Connected

267,512FansLike
1,200FollowersFollow
1,000FollowersFollow
https://news.google.com/publications/CAAqBwgKMIuXogswzqG6Aw?hl=hi&gl=IN&ceid=IN%3Ahi

Latest Articles