रोबोट करेगा पटना की नालों की सफाई, मात्र 20 मिनट में साफ हो जाता है गटर

पटना नगर निगम अब हाईटेक होने जा रहा है। पटना नगर निगम में अंडरपास नालों की सफाई रोबोट से कराने की पूरी तैयारी कर ली गई है। पटना में साफ सफाई के लिए कोई भी व्यक्ति गटर के अंदर नहीं जाएगा। अब रोबोट के जरिए साफ सफाई की जाएगी। इसकी शुरुआत मंगलवार से ही कर दी गई। मंगलवार को पटना के इनकम टैक्स गोलंबर के पास स्थित मेनहोल को रोबोट के जरिए सफाई कर इस बैंडीकूट मशीन की शुरुआत की गई।

आपको बता दें कि यह बैंडीकूट मशीन प्रतिदिन 8 से 10 सीवरेज मेनहोल के सफाई करने में सक्षम है। इसके संचालन के लिए सिर्फ दो व्यक्तियों की आवश्यकता है। इस बैंडीकूट रोबोट मशीन का उद्घाटन महापौर सीता साहू ने किया। इस दौरान उन्होंने कहा कि गंदगी के खिलाफ पटना नगर निगम द्वारा तैयार जंगी बेड़े में बैंडीकूट मशीन के शामिल होने से ना केवल मेनहोल टू मशीन हॉल का लक्ष्य प्राप्त करना सरल हुआ है बल्कि इससे हमारे सफाई कर्मियों को भी सुविधा मिलेगी।

बैंडीकूट रोबोट मशीन में एचडी डिस्प्ले मॉनिटर के माध्यम से नाले की सफाई का काम और मशीन के अंश की लोकेशन देखी जा सकती हैं। कंट्रोल पैनल के माध्यम से मशीन का शुभम संचालन किया जाता है। इस मशीन में पैनल कंट्रोल पैनल सिरा मेनहोल के ऊपर एवं दूसरा सिरा मेन होल के अंदर तक जाकर गटर की गहराई से सफाई करता है।

क्या है रोबोट की खासियत

इस रोबोटिक मशीन में दूसरे सिरे में 4 आर्म्स लगे हैं। जिससे कि कचरा बाहर निकलता हैं। इस मशीन में सभी कैमरे आर्मी IP68 वाटरप्रूफ से लैस है। जंग रोधक कार्बन फाइबर से बनी यह मशीन वाटर प्रूफ है। इस मशीन में लगे सेंसर के माध्यम से मेनहोल के सफाई के दौरान निकलने वाली जहरीली गैस के उत्सर्जन की जानकारी भी ली जा सकती है।

whatsapp channel

google news

 

सिर्फ दो लोगों की पड़ती है जरूरत

आपको बता दें कि जहां पहले गटर को साफ करने के लिए कई घंटों की मशक्कत करनी पड़ती थी और इसमें कई लोगों की जरूरत होती थी। वहीं अब इस रोबोट से 20 मिनट में ही सफाई हो सकेगी। इसके अलावा इसमें सिर्फ दो कर्मियों की जरूरत पड़ेगी इस तरह पटना नगर निगम द्वारा अपने कर्मियों को अन्य कार्यों में लगाया जा सकता है। आपको बता दें कि शहर में जल जमाव की स्थिति के कारण अक्सर लोगों को समस्याओं का सामना करना पड़ता है।

Share on

Leave a Comment