युवती ने पेश की अनूठी मिसाल, बस मे मिला नोटों से भरा बैग किसान को लौटाया

मध्य प्रदेश के बैतूल में ईमानदारी का ऐसा उदहारण देखने को मिला, जहां एक युवती को एक लाख बीस हजार रुपये से भरा बैग मिला जिसे युवती ने पुलिस के हवाले कर दिया. पुलिस ने भी जिस किसान के रुपये थे, उसे वापस लौटा दिए. आपने ईमानदारी की केवल मिसालें सुनी और देखी होंगी, मगर युवती रीता की ईमानदारी की चारों तरफ तारीफ हो रही हैं.

इसके पहले भी आए थे कही से रुपए


हर बार लक्ष्मी रीता का दरवाजा खटखटाती है, किन्तु रीता हमेशा उसे लौटा देती है. ताज़ा मामला किसान का रुपये से भरा बैग पुलिस को लौटाने से जुड़ा है. बिरुल बाज़ार निवासी किसान राजा रमेश साहू अपनी गोभी की फसल भोपाल बेचकर वापस आ रहा था. उसका यह बैग, वैष्णवी बस में छूट गया था. बस में आगे की यात्रा कर रही पोहर निवासी रीता को यह बैग मिला जिसे देखने पर उसमें एक लाख बाइस हजार रुपये थे. रीता ने ईमानदारी की मिसाल पेश करते हुए बैग साईंखेड़ा थाना पुलिस को सौंप दिया. बस वालों की सहायता से क‍िसान राजा साहू को पुलिस ने यह रुपये से भरा बैग सौंप दिया.

रीता ने इस बैग को साईंखेड़ा थाना पुलिस को सौंप दिया। बस वालों की मदद से पुलिस ने इस बैग को राजा साहू तक पहुंचा दिया। साईंखेड़ा थाना प्रभारी रत्नाकर हिंग्वे का कहना है कि रीता ने पहली बार अपनी ईमानदारी का उदाहरण पेश नहीं किया है। 

इससे पहले भी रीता के पिता के खाते में 42,000 रुपये आ गए थे, जिसे उसने वास्तविक व्यक्ति को लौटाकर मिसाल पेश की थी। थाना प्रभारी ने इस मामले की जानकारी अपने वरिष्ठ अधिकारी को दी और रीता पवार को सम्मानित किया गया।

whatsapp channel

google news

 
Share on
Also Read:  लोग घर से भाग करते है शादी पर इन्होने शादी से भाग रच दिया इतिहास