बिहार में इथनॉल की सौ फैक्ट्री खोलिए, हम खरीद लेंगे सारी- नितिन गडकरी

केंद्रीय सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को ऐसा प्रस्ताव दिया है जो खुद सीएम 15 साल पहले करना चाहते थे। गडकरी ने नीतीश ने कहा कि बिहार में इथनॉल की सौ फैक्ट्री खोलिए। बिहार की इकोनॉमी बदल जाएगी। मैं सहयोग के लिए तैयार हूं। 
कोईलवर पुल के समांतर बने सिक्स लेन पुल के उद्घाटन समारोह में केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को बिहार में रोजगार के अवसर और बढ़ाने के भी परामर्श दिए। कहा कि बिहार में इथनॉल की सौ फैक्ट्री खोलिए। बिहार की इकोनॉमी बदल जाएगी। मैं सहयोग के लिए तैयार हूं। इस सेक्टर में मेरे से बेहतर कोई कंसल्टेंट नहीं मिलेगा।

2 लाख करोड़ की इकोनॉमी बनेगी

उन्होंने कहा मैं परिवहन मंत्री भी हूं। जितना बनाएंगे उतना खरीद लेगी केंद्र सरकार। अब तो इथनॉल के पंप भी खुल गए हैं। इथनॉल की बाइक भी लांच हो गई है। नितिन गडकरी एमएसएमई मंत्री भी हैं। उन्होंने यह कहा कि दो लाख करोड़ की इकोनॉमी बनेगी इथनॉल की। इसमें बिहार को शामिल होना चाहिए। इसमें काफी रोजगार है.

केंद्रीय मंत्री ने कहा कि बिहार से राज्यसभा के एक सांसद ने उन्हें बताया है कि टोल प्लाजा से गुजर रहे गन्ने के ट्रैक्टर से टोल टैक्स वसूला जा रहा। मैंने यह निर्देश दिया है कि टोल प्लाजा से गन्ना लेकर गुजरने वाले वाहन को टोल टैक्स नहीं देना होगा। इस बारे में ठेकेदार को कहा गया है। नितिन गडकरी ने कहा कि बिहार की कला को वह अंतरराष्ट्रीय स्तर पर लीडर बनाना चाहते हैं। यहां की खादी और हैंडलूम उत्कृष्ट क्वालिटी का है।

नीतीश ने कहा, UPA सरकार ने नहीं दी थी अनुमति

केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी के इस परामर्श पर बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि मैं अपने पहले कार्यकाल में इस पर काम करना चाहता था तब 22,000 करोड़ का निवेश भी मिल रहा था. लेकिन उस समय तत्कालीन यूपीए की सरकार ने मंजूरी नहीं दी थी. लेकिन आज मैं खुश हूं कि NDA की केंद्र सरकार ने इस तरफ ध्यान दिया और केंद्रीय मंत्री इथेनॉल की दिशा में बढ़ने को कह रहे हैं. नीतीश कुमार ने कहा कि जो काम में अपने पहले कार्यकाल में नहीं कर पाया अब उसे चौथे कार्यकाल में पूरा करूंगा इससे बिहार में रोजगार और उद्योग को बढ़ावा मिलेगा.

whatsapp channel

google news

 
Share on

Leave a Comment