Monday, February 6, 2023
spot_img

अब रेलवे आपके सामान का करेगा Home Delivery, जानें कितना लगेगा चार्ज

अक्सर लोगों को ट्रेन में सफर के दौरान ज्यादा सामान लेकर चलना पड़ता है ऐसे में यात्रियों को काफी परेशानी होती है। लेकिन अब ऐसे यात्रियों के लिए भारतीय रेलवे ने एक योजना की शुरुआत की है रेलवे ने बुक बैगेज के साथ मिलकर यात्रियों के लिए यह App आधारित डिलीवरी सेवा शुरू की है। मतलब अगर आप चाहे तो भारतीय रेलवे से अपने घर का सामान मंगवा कर उसे सैनिटाइज करके पैक करके आपकी बर्थ तक पहुंचा देगा।

whatsapp

यही नहीं ट्रेन के गंतव्य स्टेशन पर पहुंचने के बाद उनकी बर्थ से ही सामान उठाकर उनके घर तक पहुंचा दिया जाएगा। यानी आपको अपने घर से बर्थ तक सामान लेकर आने जाने की टेंशन करने की जरूरत नहीं है। लेकिन इस सुविधा का लाभ लेने के लिए यात्रियों को प्रति Bag ₹125 चुकाने पड़ेंगे। आपको बता दें कि बैग के ट्रांसपोर्टेशन से लेकर कुली तक का खर्च रेलवे वहन करेगी इसके लिए आपको कोई चार्ज देने की जरूरत नहीं है।कहा जा रहा है कि इस सुविधा से विशेषकर बुजुर्ग यात्रियों को काफी सहूलियत होगी रेल विभाग ने कहा इस सेवा को एक विशेष ऐप से जोड़ दिया गया है।

3 घंटे पहले ले जाया जाएगा समान

आपको बता दें कि यह सेवा लेने के लिए सबसे पहले आपको मोबाइल में बुक बैगेज (Book Baggage) ऐप को डाउनलोड करना पड़ेगा। इस एप्लीकेशन के जरिए आप लगेज की बुकिंग कर सकेंगे। आपको जानकारी दे दें कि अगर आप लगेज होम डिलीवरी की बुकिंग करा रहे हैं तो ट्रेन छूटने से 3 घंटे पहले आपका सामान रेलवे की ओर से ले जाया जाएगा।

समान कर सकते हैं ट्रैक

आप के समान की कोई नुकसान ना हो इसके लिए पैकिंग से पहले इसे अल्ट्रावायलेट किरणों से 360 डिग्री तक सेनीटाइज किया जाएगा, इसके बाद ही पैकिंग की जाएगी । रेलवे विभाग ने इसके साथ ही यात्री ऐप की मदद से अपने सामान की जीपीएस ट्रैकिंग की सुविधा भी जारी की है। यात्रियों का सामान पूरी तरह से बीमित होगा।

whatsapp-group

खर्च करने होंगे ₹125

ट्रेन छूटने से 15 मिनट पहले यात्री की बर्थ पर सामान पहुंचा दिया जाएगा और ट्रेन के गंतव्य स्टेशन पहुंचने के 3 घंटे बाद यात्री का सामान उनके घर पहुंच जाएगा। इस सुविधा का लाभ लेने के लिए यात्रियों को प्रति बैग ₹125 चुकाने होंगे।

Stay Connected

267,512FansLike
1,200FollowersFollow
1,000FollowersFollow
https://news.google.com/publications/CAAqBwgKMIuXogswzqG6Aw?hl=hi&gl=IN&ceid=IN%3Ahi

Latest Articles