नीतीश कुमार के 17 नए मंत्रियों में 12 पर गंभीर केस दर्ज, सर्वाधिक 6 केस बीजेपी विधायक सुभाष सिंह पर

मुख्य बातें

  • शपथ लेने वाले 17 मंत्रियों में से 12 पर गंभीर मामलों में केस दर्ज
  • सर्वाधिक छह के भाजपा विधायक सुभाष सिंह पर
  • सम्राट चौधरी सबसे पढ़े-लिखे मंत्री
  • जयंत राज सबसे युवा मंत्री

9 फरवरी मंगलवार के दिन नीतीश कुमार के मंत्रिमंडल का विस्तार हुआ इस दौरान कुल 17 मंत्रियों ने शपथ ली। शपथ ग्रहण करने वाले मंत्रियों में जदयू विधायक लेसी सिंह, भाजपा विधायक नारायण प्रसाद और भोरे से जदयू विधायक सुनील सिंह पर कोई केस दर्ज नहीं है। विधानसभा चुनाव के दौरान दिए गए हलफनामे के अनुसार लगभग सभी पर मुकदमे हैं। नए मंत्रियों में सर्वाधिक 6 केस गोपालगंज से भाजपा विधायक सुभाष सिंह पर है।

गोपालगंज के भाजपा विधायक सुभाष सिंह पर धमकी हत्या जैसे कई मामले दर्ज हैं। वही पटना के बांकीपुर के विधायक नितिन नवीन पर 5 केस दर्ज है। इसमें आचार संहिता उल्लंघन, रेल रोकने, जुलूस प्रदर्शन जैसे कई मामले हैं। वही मोतिहारी से भाजपा विधायक प्रमोद कुमार पर 4 केस दर्ज हैं।

किन विधायकों पर केस है दर्ज

  • नितिन नवीन – 4 केस (BJP)
  • नारायण प्रसाद – 0 केस (BJP)
  • सुभाष सिंह -6 केस (BJP)
  • नीरज कुमार सिंह – 3 केस (BJP)
  • प्रमोद कुमार सिंह – 4 केस (BJP)
  • आलोक रंजन -1 केस (BJP)
  • लेसी सिंह – 0 केस (JDU)
  • सुमित कुमार सिंह – 1 केस (IND)
  • सरवन कुमार – 0 केस (JDU)
  • मदन सहनी – 2 केस (JDU)
  • जयंत राज -0 केस (JDU)
  • मोहम्मद जमा खान – 2 केस (BSP)
  • सुनील कुमार – 0 केस (JDU)
  • संजय कुमार – 2 केस (JDU)
  • सम्राट चौधरी – 1 केस (BJP)
  • शाहनवाज हुसैन – 3 केस (BJP)
  • जनक राम – 0 केस (BJP)
Also Read:  बिहार में फर्राटा भरेगी गाड़ियां, साल के आखिर तक पूरा होगी इन 10 सड़क परियोजनाओं का काम

आपको बता दें कि पहले कैबिनेट विस्तार में जिस 17 मंत्रियों ने शपथ ली उसमें सबसे ज्यादा उम्र के नारायण प्रसाद हैं और सबसे कम उम्र के जदयू विधायक जयंत राज हैं। शपथ ग्रहण के दौरान राजभवन में सतरंगी नजारा दिखा मंत्री पद की शपथ लेने वालों के वेशभूषा और शब्दों में भी क्षेत्र का असर दिखा।

whatsapp channel

google news

 

आपको बता दें कि नए मंत्रियों में सबसे पढ़े-लिखे सम्राट चौधरी है। सम्राट चौधरी यूएसए से डिलीट है। आलोक रंजन पीएचडी है नारायण प्रसाद और सुभाष सिंह मैट्रिक पास है। विधानसभा चुनाव में दिए गए हलफनामे के अनुसार लगभग सभी पर मुकदमे दर्ज हैं।

Share on