पहले इंजीनियर की जॉब छोड़ बने बिहार मे BJP के विधायक, अब निकाला BPSC एक्जाम, कहा जॉब…

बथनाहा विधानसभा से नवनिर्वाचित भाजपा विधायक अनिल कुमार राम को BPSC मेंस की परीक्षा में सफलता मिली है। बीते 24 जनवरी को बीपीएससी की ओर से जारी मुख्य परीक्षा परिणाम में हुए सफल हुए हैं। उन्होंने बताया कि साल 2017 में जब BPSC की ओर से वैकेंसी निकली थी तो आवेदन किया था।

साल 2019 में मेंस हुआ प्रथम प्रयास में मिली सफलता से अपने को गौरवान्वित महसूस कर रहे हैं। अब इंटरव्यू में भी शामिल होने की तैयारी है लेकिन उन्होंने कहा कि इंटरव्यू में शामिल जरूर आऊंगा लेकिन नौकरी नहीं करूंगा।

नौकरी पेशा में पाबंदियों के कारण लोगों की मदद करने का दायरा सीमित है। लेकिन समाज सेवा का दायरा बहुत बड़ा है। मेरा सपना है कि समाज सेवा करें और अधिक से अधिक लोगों की मदद करें इसी सोच के कारण मैंने नौकरी पैसे में जाने की इच्छा का त्याग कर दिया है।

मैंने पुपरी से प्राथमिक शिक्षा प्राप्त की हाई स्कूल पुपरी से साल 2003 में मैट्रिक परीक्षा पास की और जिला टॉपर रहा। AN कॉलेज पटना से इंटरमीडिएट किया फिर बिरला इंस्टिट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी रांची से सिविल इंजीनियरिंग की। अनिल ने बताया कि वह बचपन से ही RSS से जुड़े रहे हैं। उन्होंने 2018 में भाजपा जिला उपाध्यक्ष बनाया गया साल 2020 में इन्होंने बिहार विधानसभा चुनाव लड़ा और अपार बहुमत से जीत हासिल की।

whatsapp channel

google news

 

सिविल इंजीनियरिंग करने के बाद झारखंड सरकार में डिजाइन इंजीनियर के पद पर योगदान दिया। वहां पेयजल एवं स्वच्छता विभाग में सेव दी। इसके बाद एक निजी कंस्ट्रक्शन कंपनी में अच्छे पैकेज पर 2 साल कार्य करने के बाद रिलायंस इंडस्ट्रीज में भी योगदान दिया।

इन्होंने जामनगर के रिफाइनरी में भी काम किया अनिल राम को रिलायंस कंपनी में भी काम करने का मौका मिला। लेकिन उन्होंने पढ़ाई नहीं छोड़ी। डूंगरा में किराए पर डेरा लेने के बाद दुआ जॉब करने के बाद सेल्फ स्टडी भी करते थे अनिल राम ने बताया कि उनका सपना था कि 1 दिन आईएएस बने इसके लिए अनिल 4 से 5 घंटे जरूर सेल्फ स्टडी करते थे।

Share on

Leave a Comment