Wednesday, February 8, 2023
spot_img

माधुरी दीक्षित ने इसतरह वाजपेयी जी को गुलाब जामुन खाने से रोका था, जानिए मजेदार किस्सा

भारत रत्न और देश के पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी बाजपेई आज उनका जन्म तिथि है। उन्होंने 16 अगस्त 2018 को अंतिम सांस ली थी। अटल बिहारी बाजपेई वह नेता थे जिन्हें विरोधी भी पसंद करते थे। वह कवी से लेकर एक अच्छे वक्ता थे। वह जब भी सांसद भवन में बोलते थे विरोधी भी उनकी बातें चुपचाप सुनते थे। अटल बिहारी वाजपेई को भारत के सर्वोच्च नागरिक सम्मान भारत रत्न से वर्ष 2015 में सम्मानित किया गया था। अटल बिहारी बाजपेई खानपान के काफी शौकीन थे। आज हम उनके खान-पान से जुड़ा एक मजेदार किस्सा आपको बताएंगे।

whatsapp

आप इसी बात से अंदाजा लगा सकते हैं कि वह खानपान के कितने बड़े शौकीन थे। उन्होंने प्रधानमंत्री रहते एक आधिकारिक भोज के दौरान सख्त परहेज पर रहने के वावजूद भी खाने की काउंटर की तरफ रुख कर लिया था। गुलाब जामुन देख उनसे रुका नहीं गया और वह काउंटर की तरफ बढ़ गए थे।तब उनके सहयोगियों ने अटल बिहारी बाजपेई को गुलाब जामुन खाने से रोकने के लिए यह योजना बनाई।

माधुरी दीक्षित आ गयी अटल जी के आगे

जब बाजपेई जी का ध्यान गुलाब जामुन से नहीं हटा, तब उनके सहयोगियों ने बॉलीवुड की अदाकारा माधुरी दीक्षित को बाजपेई जी का गुलाब जामुन से ध्यान भटकाने के लिए माधुरी दीक्षित को आगे कर दिया। इसके बाद अटल बिहारी बाजपाई खाने की बात को भूलकर काफी देर तक फिल्मों के बारे में बातें करने में मशगुल हो गए , इसके बाद वहाँ से मिठाईयां की थाल हटा दी गई।

आपको बता दें कि भारत रत्न से सम्मानित अटल बिहारी वाजपेई का जन्म मध्य प्रदेश के ग्वालियर में हुआ था। इनका जन्म 25 दिसंबर 1924 को हुआ था। अटल बिहारी बाजपेई एकमात्र ऐसे राजनेता थे जिन्होंने पूर्व प्रधानमंत्री जवाहर लाल नेहरू के बाद तीन बार प्रधानमंत्री पद संभाली। बाजपेई सबसे पहले 1996 में 13 दिन के लिए प्रधानमंत्री बने, उसके बाद 1998 में 13 महीनों के सरकार चलाई, फिर 1999 में वह तीसरी बार देश के प्रधानमंत्री बने। प्रधानमंत्री के रूप में उनके कार्यकाल के दौरान भारत ने 1998 में परमाणु परीक्षण किया।

whatsapp-group

Stay Connected

267,512FansLike
1,200FollowersFollow
1,000FollowersFollow
https://news.google.com/publications/CAAqBwgKMIuXogswzqG6Aw?hl=hi&gl=IN&ceid=IN%3Ahi

Latest Articles