Wednesday, February 8, 2023
spot_img

बिहार में सोशल मीडिया पर ‘माननीय जी ‘ को कुछ गलत कहा तो होगी जेल, बिहार पुलिस ने जारी किया नोटिस

बिहार सरकार ने सोशल मीडिया का यूज कर रहे लोगों के लिए एक फरमान जारी किया है इस फरमान के अंतर्गत अगर आप बिहार से हैं और सोशल मीडिया जैसे फेसबुक, टि्वटर, व्हाट्सएप टेलीग्राम जैसी साइट्स पर बिहार सरकार के मंत्रियों, विधायक, सांसद या सरकारी अफसर के खिलाफ कोई भी आपत्तिजनक टिप्पणी की तो आपके खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जाएगी. इसके अलावा आप किसी भी व्हाट्सएप ग्रुप, फेसबुक ग्रुप जिसमें झूठ या भ्रम फैलाए जा रहे हैं तो अब जरा सावधान.

whatsapp

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कड़ी आपत्ति जताते हुए उन्होंने पुलिस अधिकारियों को आदेश दिया था कि ऐसे लोगों पर कड़ी कार्रवाई की जाए जो सोशल मीडिया पर भ्रामक और नफरत वाली खबरें फैला रहे हैं. उन्होंने समीक्षा बैठक में पुलिस विभाग को सोशल मीडिया के माध्यम से ही सही जानकारी देने को कहा था.

इस मामले में अपराध इकाई के एडीजी नैयर हसनैन खान को इस बारे में सभी विभागों के प्रधान सचिव और सचिव को चिट्ठी लिखी है. कहा गया है कि नीतीश सरकार के किसी भी मंत्री, सरकारी अफसर, विधायक या सांसद की छवि धूमल के आरोप में पोस्ट लिखने वालों पर आईटी एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज किया जाएगा. चिट्ठी में बताया गया है कि अगर आपके विभाग में इस तरह का कोई भी मामला सामने आता है तो आर्थिक अपराध को इसकी विस्तृत सूचना दी जाए ताकि दोषियों पर कड़ी कार्रवाई की जा सके.

whatsapp-group

सोशल मीडिया के माध्यम से पुलिस बड़े अपराधिक मामलों को लेकर अपडेट देती रहेगी ताकि आम लोगों तक सही सूचना पहुंच सके और लोगों के बीच भ्रम की स्थिति पैदा ना हो कहा गया है कि सोशल मीडिया पर नजर रखने के लिए अपराध अनुसंधान विभाग भी संचार विंग बनाने पर विचार कर रहा है.

क्या कहना है आईजी का

एडीजी नैयर खान ने कहा कि सोशल मीडिया का गलत इस्तेमाल साइबर अपराध के दायरे में आता है. उन्होंने कहा अगर सरकार के किसी भी विधायक, मंत्री, सांसद या सरकारी अफसर के खिलाफ भ्रामक टिप्पणी या आपत्तिजनक पोस्ट की गई तो उस शख्स के खिलाफ साइबर अपराध के तहत जांच होगी फिर उस पर कड़ी से कड़ी कार्रवाई की जाएगी.

आर्थिक अपराध इकाई के एडीजी नैयर खान ने कहा कि इंटरनेट मीडिया का गलत इस्तेमाल करना साइबर अपराध के अंतर्गत आता है. अगर सोशल मीडिया पर सरकार के किसी भी विधायक, मंत्री, सांसद या फिर सरकारी अधिकारियों पर आपत्तिजनक टिप्पणी करने की शिकायत मिलती है तो उस शख्स पर सख्त से सख्त कानूनी कार्रवाई की जाएगी

Stay Connected

267,512FansLike
1,200FollowersFollow
1,000FollowersFollow
https://news.google.com/publications/CAAqBwgKMIuXogswzqG6Aw?hl=hi&gl=IN&ceid=IN%3Ahi

Latest Articles