सियाचिन मे शहीद हुआ हिमाचल का लाल बिलजंग गुरुंग, गर्भवती पत्नी ने वीडियो कॉल कर की अंतिम दर्शन

हिमाचल में सर्दी के मौसम में जबरदस्त बर्फबारी जारी है हिमाचल के सोलन जिले के Subathu का जवान सियाचिन ग्लेशियर में शहीद हो गया है. बर्फबारी के कारण हिमाचल प्रदेश में मौसम खराब होने के कारण 3 दिसंबर को अपनी पोस्ट की निगरानी करते हुए बिलजंग गुरुंग अचानक ही बर्फ की खाई में जा गिरे थे. जब तक बिलजंग गुरुंग को बर्फ से निकाला जाता इससे पहले ही बिलजंग शहीद हो गए.

बिलजंग गुरुंग के घर में परिवार वालों का रो-रोकर कर बुरा हाल है उनकी पत्नी दीपा गुरुंग 8 महीने की गर्भवती है और वह परिजनों के साथ नेपाल में है. बिलजंग की पत्नी ने वीडियो कॉल के जरिए पति के अंतिम दर्शन किया यह किसी भी महिला के लिए बहुत ही दुखद है कि वह गर्भवती हो और उसे ऐसा कुछ देखने को मिले. Subathu में जब शहीद पति के अंतिम संस्कार की रस्म हो रही थी तो उनकी गर्भवती पत्नी ने नेपाल से वीडियो कॉल पर अंतिम संस्कार को देखा.

whatsapp channel

google news

 

आपको बता दें कि शहीद बिलजंग 2 महीने पहले ही छुट्टी लेकर नेपाल गए थे और परिजनों से मिले थे. छुट्टी के बाद बिल जंग भारत चीन के अंतरराष्ट्रीय सीमा पर देश की रक्षा के लिए तैनात थे. दिलजंग के पिता सेना वृत्त होकर अब DASI के तहत भारत की रक्षा में तैनात हैं और उनके भाई GR में देश की रक्षा के लिए जम्मू कश्मीर की सीमाओं पर तैनात हैं.

हिमाचल के सीएम जयराम ठाकुर ने जताया शोक

हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने भी बिलजंग के शहादत पर शोक जताया है उन्होंने सोलन के Subathu से संबंध रखने वाले गोरखा राइफल में तैनात बिलजंग के सियाचिन में मातृभूमि की सुरक्षा करते हुए शहीद होने पर शोक प्रकट किया. मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने कहा कि ईश्वर दिवंगत आत्मा को शांति और शोकग्रस्त परिवार को संबल प्रदान करें.

Share on

Leave a Comment