इन 4 गलतियां के कारण खत्म हुआ गोविंदा का कैरियर, बन गए हीरो से जीरो

बॉलीवुड एक्टर गोविंदा फिल्म इंडस्ट्री में एक सुपरस्टार के तौर पर जाने जाते हैं. उन्होंने अपने अभिनय से बॉलीवुड में एक से बढ़कर एक सुपरहिट फिल्में दी मगर सुपरहिट रहने का जो दौर था वो उनका बहुत लंबा नहीं रहा.गोविंदा के बारे में ये कहा जाना गलत नहीं होगा कि एक्टर की कुछ गलतियों की वजह से उनका स्टारडम उनसे छूट गया. इसके कई सारे कारण उनके करियर के दौरान देखने को मिले जब गोविंदा का डिसीजन उन्हीं भर भारी पड़ता नजर आया.

आइए आज हम गोविंदा के उन गलतियों पर नजर डालते हैं जिसने गोविंदा को हीरो नंबर वन से जीरो बना दिया….

गोविंदा की सबसे बड़ी गलती रही वह हमेशा से लीड रोल करते थे उन्हें सपोर्टिंग रोल करने में दिक्कत होती है इससे उन्होंने हमेशा ही परहेज किया. वहीं उनके साथी कलाकार जैसे अनिल कपूर, संजय दत्त आज सपोर्टिंग रोल में भी कामयाब है. करियर के बीच में गोविंदा का राजनीति के क्षेत्र में उतरना हालात फैसला साबित हुआ. कांग्रेस पार्टी की तरफ से उन्होंने चुनाव लड़ा और जीता भी मगर इसके बाद उनका फिल्मी सफर जैसे कहीं थम सा गया, उन्होंने फिल्मों में वापसी तो की मगर गोविंदा का वो पुराना जादू कहीं गायब हो गया.

Also Read:  भारत की Slumdog Millionaire का जलवा बरकरार, 7 ऑस्कर अवॉर्ड जीतकर भी नहीं पछाड़ पाई Everything Everywhere All at Once

गोविंदा ने अपने फिटनेस का कभी ख्याल नहीं रखा और मोटे होते चले गए. कहा जाता है कि बॉलीवुड में उसी का जादू चलता है जो कि दिखने में स्मार्ट हो और परदे पर फिट नजर आए. आज जहां गोविंदा के समय के एक्टर जैसे कि अनिल कपूर, संजय दत्त, सनी देओल और अजय देवगन अपनी फिटनेस और फिजीक की वजह से इंडस्ट्री में एक वजूद रखते हैं.

whatsapp channel

google news

 

गोविंदा ने अपनी मेहनत के दम पर खूब नाम कमाया मगर एक वक़्त ऐसा आया जब उनके लिए अपना स्टारडम संभालना मुश्किल हो गया. जब गोविंदा को वक़्त की मांग के हिसाब से खुद को ढालने की ज़रूरत थी तब उन्होंने इस पर गौर नहीं किया और धीरे धीरे उनका स्टारडम भी कहीं पीछे छूट गया.

Share on