बिहार पुलिस भर्ती के शारीरिक दक्षता परीक्षा मे 50 फर्जी अभ्यर्थी पकड़ाये

बिहार पुलिस सिपाही भर्ती शारीरिक दक्षता परीक्षा में फर्जीवाड़ा का मामला सामने आया है. मामला सामने आने के बाद इसके तहत हुई कार्रवाई में  50 फर्जी अभ्यर्थियों को गिरफ्तार कर लिया गया है.कागजातों के सत्यापन में न तो इनकी फोटो मिली और न ही बायोमीट्रिक अंगूठे का निशान मिला. माना जा रहा है कि लिखित परीक्षा में सभी ने अपनी जगह सॉल्वरों को बैठाया था.

पकड़े गए सभी अभ्यर्थियों को केंद्रीय चयन पर्षद की ओर से गर्दनीबाग थाने की पुलिस के हवाले कर दिया गया है. इनके खिलाफ धोखाधड़ी की एफआईआर भी दर्ज कराई गई है. गिरफ्तार किए गए आरोपितों से पुलिस पूछताछ कर रही है. बता दें कि यह पहला मौका नहीं है, इससे पहले भी दर्जनों अभ्यर्थी इस तरह के फर्जीवाड़े में पकड़े गए हैं.

अरुण कुमार (गर्दनीबाग थाना प्रभारी) ने बताया कि सिपाही भर्ती की शारीरिक दक्षता परीक्षा गर्दनीबाग हाई स्कूल के प्रांगण में चल रही है. शारीरिक दक्षता परीक्षा के लिए कुल 1600 अभ्यर्थियों को बुलाया गया था. इसमें से 1231 अभ्यर्थी शामिल हुए थे फिजिकल टेस्ट के दौरान 50 अभ्यर्थियों को कागजात और बायोमेट्रिक जांच के माध्यम से फर्जीवाड़ा करते पकड़ा गया. फर्जीवाड़ा करने के आरोप में पकड़े गए अभ्यर्थियों को मंगलवार की दोपहर दोपहर जेल भेज दिया गया.

50 अभ्यर्थियों के साथ दो दलाल भी गिरफ्तार

गिरफ्तारी के बाद पुलिस ने जब अभ्यर्थियों से पूछताछ किया तो और भी बड़ा खुलासा हुआ जिसके बाद दो दलाल गिरफ्तार हुआ. पूछताछ में अभ्यर्थियों ने पुलिस को कहा कि वह सॉल्वर गैंग के माध्यम से लिखित परीक्षा पास किए हैं जिनके दलाल दक्षता परीक्षा के दौरान गर्दनीबाग इंटर कॉलेज के बाहर खड़े हैं. अभ्यर्थियों के निशानदेही पर पुलिस ने छापेमारी कर दोनों दलालों को दौड़ा-दौड़ा कर गिरफ्तार किया है. थाना प्रभारी अरुण कुमार ने बताया कि पूछताछ के बाद सारे राज सामने आ गए जल्द ही सॉल्वर गैंग से जुड़े छात्रों को भी गिरफ्तार कर लिया जाएगा इसके लिए संभावित ठिकानों पर छापेमारी जारी है

whatsapp channel

google news

 
Share on

Leave a Comment