Thursday, February 2, 2023
spot_img

बिहार बोर्ड ने मैट्रिक और इंटर की परीक्षाओं के मूल्यांकन की तिथि की घोषणा

बिहार बोर्ड ने मैट्रिक और इंटर की परीक्षाओं के साथ मूल्यांकन की तैयारियां तेज कर दी हैं। इंटर और मैट्रिक मूल्यांकन के लिए सात-सात केंद्र बनेंगे। फरवरी में परीक्षाओं का मूल्यांकन भी शुरू कर दिया जाएगा। 26 फरवरी से इंटर और 5 मार्च से मैट्रिक का मूल्यांकन शुरू होने की संभावना है।

whatsapp

बिहार बोर्ड के अध्यक्ष आनंद किशोर ने मूल्यांकन केंद्र को लेकर सभी जिला अधिकारी को पत्र लिखा है. उन्होंने इस पत्र में लिखा कि बोर्ड ने सभी जिलों से मूल्यांकन केंद्र निर्धारण करने का निर्देश दिया है मूल्यांकन केंद्र निर्धारित करने के बाद केंद्र की सूचना बोर्ड के पास भेजनी है. निर्धारित मूल्यांकन केंद्र के नाम के साथ केंद्र निदेशक का नाम, उनका ईमेल आईडी, बैंक खाते का विवरण, मोबाइल नंबर भी मांगी गई है.

15 दिनों में समाप्त करना है मूल्यांकन

बोर्ड की मानें तो मूल्यांकन 15 दिनों में संपन्न होने की संभावना है इंटर मूल्यांकन 26 फरवरी से शुरू होगा, लेकिन मुख्य भाषा विषयों की उत्तर पुस्तिका के लिए अतिरिक्त 5 दिन दिए जाएंगे, वहीं दशमी (10th) की उत्तर पुस्तिकाओं का मूल्यांकन 20 मार्च तक समाप्त होने की संभावना है. हर एक केंद्र पर 100 से करीब 200 के बीच परीक्षक नियुक्त किए जा सकते हैं.

मूल्यांकन के बाद कंप्यूटर पर अंकों की होगी Entry

जिन कॉलेज या स्कूल में कंप्यूटर की व्यवस्था होगी वहीं पर मूल्यांकन केंद्र बनाया जाना है. कॉलेज या स्कूल में कम से कम 6 कंप्यूटर चालू हालत में होने चाहिए. आपको बता दें कि डायरेक्ट कंप्यूटर सेंटर सोसाइटी की तरफ से 50-50 कंप्यूटर उपलब्ध करवाए गए हैं.

whatsapp-group

मैट्रिक का स्कूल और इंटर का कॉलेज में होगा मूल्यांकन

मैट्रिक के लिए जिला मुख्यालय के स्कूल को चुना जाना है वही बोर्ड की माने तो इंटर का मूल्यांकन केंद्र कॉलेज में बनाया जाना है. हर केंद्र पर एहतियात बरती जानी है. जाने किन बातों को रखना होगा मूल्यांकन केंद्रों पर ध्यान

  1. सभी परीक्षक मास्क लगाकर मूल्यांकन करेंगे 
  2. परीक्षकों के लिए हैंड सेनेटाइजर की व्यवस्था रहेगी 
  3. दो परीक्षकों के बीच दो से तीन मीटर की दूरी हो 
  4. हर केंद्र पर छह-छह कंप्यूटर मूल्यांकन के लिए रखे जाने हैं
  5. सभी केंद्रों में गेट, पर्याप्त कमरे, उपस्कर (बेंच, डेस्क) आदि होने चाहिए
  6. स्कूल और कॉलेज पूरी तरह से चहारदीवारी से घिरे हों

Stay Connected

267,512FansLike
1,200FollowersFollow
1,000FollowersFollow
https://news.google.com/publications/CAAqBwgKMIuXogswzqG6Aw?hl=hi&gl=IN&ceid=IN%3Ahi

Latest Articles