भारत में बैन हो चुके हैं ये सारे विज्ञापन, कर दी थी सारी हद पार, देखिए लिस्ट

टीवी चैनल्स के लिए विज्ञापन कमाई का सबसे बड़ा जरिया होते हैं। कंपनी अपने प्रोडक्ट की पहुंच लोगों तक बनाने के लिए विज्ञापनों का सहारा लेती है। कई बार विज्ञापनों में ऐसी चीजें भी दिखाई जाती हैंए जो लोगों की भावनाओं को आहत करती हैं या कामुकता और अश्लीलता की वजह से इन्हें फैमिली के साथ नहीं देख सकता। आज हम आपको ऐसे ही कुछ विवादास्पद विज्ञापनों के बारें में बताने जा रहे है, जिन्हें किसी न किसी वजह से टीवी पर बैन किया गया। 

Amul Macho-साल 2007 में मॉडल चना खाने एक विवाद विज्ञापन के जरिए डेब्यू किया था. अमूल माचो अंडरवियर के विज्ञापन में मादकता के लिए कुछ बैन कर दिया गया था. इस विज्ञापन को  वल्गरिटी और सेक्शुअली एक्सप्लीसिट होने कारण बैन किया गया था.

ऐड में एक्टर डीनो मोरिया एक्ट्रेस विपाशा बसु की पैंटी को अपने दांतों से खींचते हुए दिखाई देते हैं। कई महिला संगठनों द्वारा विरोध के बाद ऐड पर बैन लगा दिया गया।

विराट कोहली ने साल 2011 में फास्टट्रैक का एक विज्ञापन किया था इस विज्ञापन में बॉलीवुड अभिनेत्री जेनेलिया डिसूजा उन्हें रिझाती हुई दिखी और विराट इसमें पायलट बने थे। विज्ञापन में कुछ ऐसा था जिसके बाद इस विज्ञापन को बैन करना पड़ा था.

whatsapp channel

google news

 
Also Read:  16 साल बाद हुआ सेना के जवान का अंतिम संस्कार, जानिए शहीद का लापता होने और मिलने की कहानी

साल 2011 में आईडिया का एक विज्ञापन आया। इस कमर्शियल विज्ञापन में बढ़ती आबादी को लेकर मैसेज इस तरह दिया गया कि इस विज्ञापन को आखिरकार में बैन करना पड़ा।

साल 2010 Zatak डॉ का एक विज्ञापन आया इस विज्ञापन में दिखाया गया कि सुहागरात के लिए बैठे नई नवेली दुल्हन को अपने पड़ोसी युवक के डीओ की महक से ऐसे पागल हो जाती है। नई नवेली दुल्हन अपने गहने फेंक दी है और अंगूठी फेंक देती है यह वीडियो इस कदर आपत्तिजनक था कि इससे बैन कर दिया गया।

साल 1995 में सुपरमॉडल मिलिंद सोमन और मधु स्प्रे शू पहने दिखते हैं इस विज्ञापन में दोनों ने न्यूड फोटोशूट करवाया था। इन दोनों ने जूतों के अलावा और कुछ नहीं पहना और अजगर को अपने गले से लपेटा हुआ है। वाइल्ड लाइफ प्रोटेक्शन एक्ट के तहत अजगर के गलत इस्तेमाल के चलते बैन हुआ।

साल 1991 में अभिनेत्री पूजा बेदी ने का-मसूत्र कं-डोम के लिए ऐसे ऐसे फोटो शूट करवाया कि इससे आखिरकार बैन करना पड़ा। इस विज्ञापन को दूरदर्शन पर प्रसारित किया गया था लेकिन बाद में दूरदर्शन ने इस विज्ञापन को दिखाने से मना कर दिया था।

Share on