Monday, February 6, 2023
spot_img

बिहार में नये साल में खुलगें सभी स्कूल, बगैर परीक्षा अगले क्‍लास में होगी प्रोन्‍नति

देश में कोरोना महामारी के चलते स्कूल मार्च माह से बंद पड़े हैं. इस कोरोना काल में यूपी-बिहार (School Reopen, bihar, jharkhand, up) सहित कई राज्यों ने स्कूल खोलने का निर्णय ले लिया है. लेकिन कुछ राज्यों में अभी भी स्कूल बंद हैं. कई जगहों पर स्कूल खुलने के बाद कोरोना संक्रमण के मामले भी आए. केंद्र सरकार के निर्देश के अनुसार राज्य में कक्षा 1 से लेकर कक्षा 8 तक प्राइवेट समेत सभी सरकारी स्कूल खोले जाएंगे. शिक्षा विभाग के एक अधिकारी ने बताया कि स्कूल खोले जाने के बाद बिना परीक्षा के छात्र-छात्राओं को अगले कक्षा में प्रवेश करने का निर्णय लिया जाएगा.

whatsapp

1 करोड़ 66 लाख बच्चे स्कूलों से है दूर


कोरोना महामारी के दौरान सारे स्कूल बंद हो गए उसके कारण अब तक कई छात्र और छात्राएं ऑनलाइन पढ़ाई पर निर्भर है. लेकिन गांव में छात्र और छात्राओं को Online पढ़ने की सुविधा नहीं मिल पाती है. शिक्षा विभाग के एक अधिकारी के अनुसार सरकार ने 28 सितंबर से कक्षा 9 से लेकर कक्षा 12 तक के स्कूलों को खोलने की अनुमति दी थी लेकिन इससे निचली कक्षाओं के स्कूलों को खोलने पर अभी तक पाबंदी लगा रखी है आपको बता दें कि इस वजह से सरकारी स्कूलों समेत प्राइवेट स्कूलों के करीब 1 करोड़ 66 लाख बच्चे स्कूलों से दूर है.

इन शर्तों पर खुलेंगे स्कूल


कोविड-19 के कड़े सुरक्षा मानकों को ध्यान में रखते हुए विभाग ने मुख्य सचिव को प्रस्ताव भेजा है इस माह सभी स्कूलों में शर्तों के साथ कक्षा 1 से लेकर कक्षा आठवीं तक की संचालन की अनुमति दी जाए. इसके लिए स्कूलों में सुरक्षा के उपायों की तैयारी करनी होगी किसी भी कंटेनमेंट जोन के विद्यार्थी कर्मचारी और शिक्षक स्कूल नहीं आएंगे स्कूल खोलने के लिए COVID-19 के गाइडलाइन का सख्ती से अनुपालन करना होगा.

स्कूल खोलने के लिए लिए जाएंगे महत्वपूर्ण फैसले


जिला अधिकारी एवं जिला शिक्षा अधिकारी के ऊपर रहेगी कि सरकार के दिशा निर्देश का अनुपालन सुनिश्चित कराना. उन्हें मास्क, सैनिटाइजर आदि एहतियात के साथ सोशल डिस्टेंसिंग का अनुपालन कराना होगा. विद्यालय अपने स्तर से विद्यार्थियों और शिक्षकों का शेड्यूल निर्धारित करेंगे. मुख्य सचिव की अध्यक्षता में आपदा प्रबंधन समूह के प्रस्तावित बैठक में स्कूलों के बारे में और भी महत्वपूर्ण निर्णय लिए जाने हैं. अगले साल छात्र-छात्राओं को राशि के बदले किताब मुहैया कराई जाएगी.

whatsapp-group

Stay Connected

267,512FansLike
1,200FollowersFollow
1,000FollowersFollow
https://news.google.com/publications/CAAqBwgKMIuXogswzqG6Aw?hl=hi&gl=IN&ceid=IN%3Ahi

Latest Articles