बिहार के 26 जिले आए शीतलहर की चपेट में, हुआ ऑरेंज अलर्ट जारी

शनिवार को गया में अधिकतम 14 किमी प्रति घंटे तो पटना में आठ किमी प्रति घंटे की रफ्तार से हवाएं चलीं. कड़ाके की ठंड तथा हवा की चुभन के कारण जनजीवन बुरी तरह प्रभावित हुआ है. राज्‍य में सर्वाधिक ठंड गया में रिकार्ड किया गया, जहां का तापमान 3.6 डिग्री तक जा गिरा. शनिवार को गया में 24 घंटे के दौरान तापमान में करीब दो डिग्री सेल्सियस तक गिरावट आई.

अभी और गिरेगा पारा, रात में पड़ेगी भीषण ठंड

मौसम विज्ञानियों का कहना है कि अभी और पारा गिरेगा. फिलहाल एक सप्ताह तक मौसम साफ रहने की उम्मीद है. ऐसे में दिन एवं रात के तापमान में काफी अंतर होगा। दिन में धूप निकलने के कारण तापमान में थोड़ी वृद्धि हो सकती है लेकिन रात में भीषण ठंड जारी रहने के आसार हैं.

ठंड की वजह से जिला प्रशासन ने भी अलर्ट जारी करते हुए नगर निगम और सभी अंचलाधिकारियों को गरीबों के लिए समुचित रैन बसेरा और अलाव का इंतजाम करने का निर्देश दिया है. कई गांव और जिलों में अलाव की व्यवस्था करवाई जा रही है फिलहाल राहत का काम जारी है लेकिन बर्फीली हवा ने लोगों का जीना मुश्किल कर दिया है.

राज्‍य के 26 जिलों में शीतलहर, अलर्ट जारी

शीतलहर की बात करें तो राज्‍य के 26 जिले इसकी चपेट में है. राज्‍य के पटना, गया, नालंदा, शेखपुरा, बेगूसराय, लखीसराय, नवादा, बक्सर, भोजपुर, रोहतास, भभुआ, औरंगाबाद, जहानाबाद, अरवल, सीतामढ़ी, मधुबनी, मुजफ्फरपुर, दरभंगा, वैशाली, शिवहर, समस्तीपुर, प. चंपारण, सीवान, सारण, पूर्वी चंपारण एवं गोपालगंज जिले शीतलहर की चपेट में हैं. मौसम विभाग ने इन जिलों के लिए ठंड का ऑरेंज अलर्ट जारी किया है.

whatsapp channel

google news

 
Share on
Also Read:  बिहार के इस लड़के ने बनाया मक्के के छिलके की ईको फ्रेंडली कप-प्लेट, दाम मे है प्लास्टिक-थर्मोकोल से सस्ती