Monday, February 6, 2023
spot_img

भारत से ही तेल खरीदने के वावजूद नेपाल में पेट्रोल इतना सस्ता क्यों है, बिहार मे आयी है इससे बहार, कैसे ?

पेट्रोल और डीजल के दामों में भारी वृद्धि हुई है । इनकी कीमतें पिछले सारे रिकॉर्ड तोड़ते हुए आसमान छू रहे हैं । कुछ जगहों पर petrol ₹100 प्रति लीटर भी पार कर चुका है । वहीं डीजल भी ₹90 प्रति लीटर से ऊपर बिक रहा है ।

whatsapp

भारत में तेल के बढ़ते दामों के बीच नेपाल से तेल तस्करी के मामले सामने आ रहे हैं । भारत से ही तेल लेने वाली देश नेपाल भारत से लगभग ₹30 सस्ता पेट्रोल और डीजल बेच रही है । ऐसे में भारत नेपाल सीमा से सटे पेट्रोल पंप को भारी नुकसान हो रहा है । बिहार और उत्तर प्रदेश के कुछ जिले सीधे नेपाल की सीमा से जोड़ते हैं ऐसे में इन जगहों पर पर तेल की तस्करी धड़ल्ले से चल रही है ।

क्या आपने सोचा है कि भारत से ही तेल लेने वाला नेपाल भारत से इतना सस्ता तेल कैसे बेच रहा है। आइए आज इसको समझते हैं , उससे पहले यह जानते हैं कि भारत में तेल की कीमत कैसे तय की जाती है ।

पेट्रोल और डीजल की कीमत अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल की कीमतों और डॉलर और रुपए के बीच अंतर पर निर्भर करती है । सबसे पहले कच्चे तेल की कीमत के अनुसार पेट्रोल का बेस प्राइस निर्धारित किया जाता है । फरवरी महीने का ही उदाहरण देते हुए इस को समझते हैं।

whatsapp-group

ऐसे होती है भारत मे पेट्रोल-डिजल के प्राइस तय

1 February 2021 को पेट्रोल की बेस्ट प्राइस 29.34 ₹ थी । बाकी खर्च जोड़ते हुए कंपनियों ने डीलर से 29.71 रुपए प्रति लीटर लिया । इसके बाद केंद्र सरकार द्वारा इस पर एक्साइज ड्यूटी यानी उत्पाद शुल्क के रूप में 32.98 रुपए की शुल्क लगाई गई । डीलरों ने अपने कमीशन के रूप में 3.69 रुपए प्रति लीटर लिया । इसके बाद इस पर अलग अलग राज्य टैक्स के रूप में अलग-अलग वैट या सेल टैक्स लगाते हैं । दिल्ली की बात करें तो वहां यह 19.92 रुपए प्रति लीटर है । इस तरह दिल्ली में पेट्रोल की कीमत 86.30 ₹ प्रति लीटर पड़ी ।

नेपाल में पेट्रोल और डीजल क्यों सस्ता है?

नेपाल को पेट्रोल और डीजल भारत ही मुहैया करवाता है । भारत के द्वारा नेपाल को खरीद मूल्य पर ही बिना कोई टैक्स के तेल का आपूर्ति किया जाता है । इस पर सिर्फ रिफाइनरी शुल्क लिया जाता है। इसके बाद नेपाल इस पर अपना टैक्स या वैट लगाता है जो कि भारत की तुलना में बहुत कम है । उसके बाद विभिन्न एजेंसियों के पेट्रोल पंप पर इस तेल को बेचा जाता है ऐसे में लाजमी है की भारत के मुकाबले नेपाल में पेट्रोल और डीजल सस्ता है । नेपाल में डीजल 59.85 भारतीय रुपए प्रति लीटर बिक रही है । तो वही पेट्रोल 70.45 भारतीय रुपए प्रति लीटर में बिक रहा है ।

अब आपको समझ में आ गया होगा की तेल की तस्करी क्यों की जा रही है। भारतीय सुरक्षा सीमा बल तथा स्थानीय पुलिस इस तस्करी को रोकने के लिए मुस्तैदी से काम कर रही है। किसी भी गाड़ी को 100 लीटर से ज्यादा पेट्रोल भरवाने की इजाजत नहीं दी गई है । Petrol pump को आदेश दिए गए हैं की पूरी जांच पड़ताल के बाद ही अधिकतम 100 लीटर petrol दिया जाए । नेपाल की अधिकतम सीमा है खुली होना सुरक्षाबलों के लिए बड़ी चुनौती है लोग पगडंडियों के रास्ते से भी तेल की तस्करी कर रहे हैं । स्थानीय सुरक्षा बलों का कहना है कि हम पगडंडी वाले रास्तों पर भी नजर रख रहे हैं । हम तुरंत ही तेल की तस्करी को पूरी तरह रोकने में सफल होंगे ।

Stay Connected

267,512FansLike
1,200FollowersFollow
1,000FollowersFollow
https://news.google.com/publications/CAAqBwgKMIuXogswzqG6Aw?hl=hi&gl=IN&ceid=IN%3Ahi

Latest Articles