जिस महिला उम्मीदवार के लिए नितीश कुमार करने वाले थे सभा, वो सभा से पहले बनी माँ, जाने क्या है मामला !

बिहार में विधानसभा चुनाव के शुरू होने के काफी कम दिन रह गए हैं, ऐसे में सभी पार्टियां ज़ोरों से प्रचार प्रसार में लगी हुई है। इसी चुनाव प्रचार प्रसार में एक अनोखा मामला भोजपुर जिले के जगदीशपुर विधानसभा क्षेत्र से आया है। मामला यह है कि जिस जदयू उम्मीदवार के लिए मुख्यमंत्री नीतीश कुमार जी सभा करने जा रहे थे वह जदयू उम्मीदवार सभा से पहले मां बनी है और उन्होंने एक नन्हे बच्चे को जन्म दिया है। इस बात से लोगों में काफी उत्सुकता बढ़ गई है कि यह महिला कौन है आइए बताते हैं इनके बारे में।

दरअसल पूरी बात यह है कि रविवार को मुख्यमंत्री नीतीश कुमार जी जगदीशपुर विधानसभा क्षेत्र में सुष्मिता कुशवाहा के लिए चुनावी सभा करने वाले थे लेकिन सभा करने से पहले ठीक यह खबर आई की जो विधायक महिला प्रत्याशी इस बार चुनाव लड़ रही है उन्हें मातृत्व सुख की प्राप्ति हुआ है और उन्होंने एक बच्चे को जन्म दिया है। सुष्मिता कुशवाहा ने अपने बच्चे का जन्म पटना के एक हॉस्पिटल में दिया है दोनों मां और बेटे बिल्कुल ही स्वस्थ्य हैं।

बता दें कि सुष्मिता कुशवाहा की पहचान अपने क्षेत्र के विधायक के उम्मीदवार से पहले एक मुखिया के तौर पर है।ये अपने क्षेत्र की सशक्त महिला मुखिया रही है। इन्होंने मुखिया रहते हुए अपने क्षेत्र का काफी विकास किया है इसी से प्रभावित होकर जदयू ने इन्हें वहां से अपना विधायक का उम्मीदवार बनाया है।

सुष्मिता कुशवाहा मुखिया रहते हुए किया काफी विकास

इस बार वीर कुंवर सिंह की धरती पर कई धुरंधर चुनाव में उतरे हैं। राजद महागठबंधन की ओर से एमएलए राम विष्णु सिंह लोहिया को इस बार मैदान में उतारा गया है।वही इन एनडीए अपने उम्मीदवार के तौर पर इस विकास करने वाली महिला पर अपना आत्मविश्वास दिखाया है। जगदीशपुर विधानसभा क्षेत्र पर कुल 18 उम्मीदवारों ने नामांकन किया है परंतु सुष्मिता कुशवाहा मात्र एक ऐसी कैंडिडेट है जो की मुखिया रहते हुए अपने क्षेत्र मे अपना काम दिखा चुकी है। इनके रहते हुए ग्राम सभा में महिलाएं भी भाग लेने लगी है। किसानों के लिए भी इन्होंने काफी काम किए हैं। उनके सिंचाई की व्यवस्था के लिए बिजली और कई सारे उपाय भी किए हैं। इसीवजह से इनको लोगों का काफी सपोर्ट मिला हुआ है।

whatsapp channel

google news

 

इस बार यहाँ है कांटे की टक्कर

परंतु महिला उम्मीदवार सुष्मिता कुशवाहा का इस बार मुकाबला आसान नहीं रहने वाला है क्योंकि राजद  ने अपने सिटिंग एमएलए को इस बार सुष्मिता कुशवाहा के विरोध में उतारा है। इतना ही नहीं इसी सीट पर लोजपा ने भी पूर्व मंत्री श्री भगवान सिंह कुशवाहा को अपने प्रत्याशी के रूप में दिया है इसके अलावा पप्पू यादव की पार्टी जाप राजद के पूर्व विधायक के भाई दिनेश पर अपना विश्वास जताया है। इस तरह से देखा जाए तो इस विधानसभा क्षेत्र में कांटों की टक्कर होने वाली है। आने वाले दिन में देखते हैं कि यहां से कौन विधायक बनता है।

Share on

Leave a Comment