Thursday, February 2, 2023
spot_img

“अब तूने और छक्का मारा तो बैट से मारूंगा”, क्यों सचिन तेंदुलकर ने बीच मैदान मे सहवाग से कही ये बात

क्रिकेट के भगवान कहे जाने वाले सचिन तेंदुलकर ने मुल्तान के सुल्तान नाम से पुकारे जाने वाले वीरेंद्र सहवाग को छक्का ना मारने की हिदायत दी थी। वीरेंद्र सहवाग ने एक बंगाल के शो में सबके सामने यह राज खोला था। इस शो में भारतीय क्रिकेट टीम के कई खिलाड़ी जहिर खान , हरभजन सिंह ,वी वी एस लक्ष्मण , और रविंद्रचंद्र अश्विन मौजुद थे। इस शो में सौरव गांगुली भी उपस्थित थे जो कि एंकरिंग कर रहे थे।

whatsapp

अगर मैच में छक्के और चौके ना लगे तो मैच देखने में आनंद ही नहीं आता है ये बात तो आपलोग को मालूम ही होगा। सभी खिलाड़ी चाहते है कि ज्यादा से ज्यादा चौके छक्के मारें जिससे कि उनको सभी से तारीफ मिलती है, इससे मैदान में उनका मनोबल बना हुआ रहता है। क्या आपने कभी सुना है कि एक ही टीम के खिलाड़ी हो जो कि अपने साथ बैटिंग कर रहे खिलाड़ी को छक्के ना मारने की हिदायत दी हो। शायद आप लोग में ऐसा कोई नहीं होंगे जो ऐसा सुने हों। लेकिन ऐसा हुआ है और वो भी भारतीय खिलाड़ी वीरेंद्र सहवाग के साथ।उनको यह हिदायत देने वाले और कोई नहीं सचिन तेंदुलकर जिनको लोग क्रिकेट का भगवान मानते हैं।

बंगाल के एक शो में यह राज को सहवाग ने सबके सामने बताया। सौरव गांगुली ने सहवाग से बोले कि आप यहां पर आए हुए सभी दर्शकों को अपना तिहरा शतक के बारे में बताएं । उन्होंने बोला मुल्तान में जब मैं 95 पर बैटिंग कर रहे थे तो छक्के से मारकर सेंचुरी बनाया , फिर जब 195 पर था तो फिर छक्के मारकर ही डबल सेंचुरी बनाया, उसके बाद फिर जब 295 पर बैटिंग कर रहा था उसके बाद फिर मैंने छक्के मारकर तिहरा शतक लगाया ।

छक्के मारकर ही उन्होने क्यो शतक बनाया

जब उससे पूछा गया कि छक्के मारकर ही उन्होने क्यो शतक बनाया ? तो उन्होने कहा उस समय सैकलैन मुस्ताक बॉलिंग कर रहे थे, जबकि लॉन्ग ऑफ, लॉन्ग ऑन , डीप मिड, और डीप स्क्वायर सभी जगह पे अच्छे फील्डर वहां तैनात थे , आगे उन्होंने कहा कि 6 रन मारने के लिए अगर मैं सिंगल लेता तो 6 गेंद लग जाता और छह बार आऊट होने का डर लगा हुआ रहता। जब 295 रनों को इतना आसान से पूरा कर लिया तो खुद पे कॉन्फिडेंस बना होता है और सोचते है कि मैं अब जब यहां तक पहुंच गया हूं तो तो आगे कुछ भी कर सकता हूं।

whatsapp-group

तेंदुलकर ने जाकर बंद करने को कहा

फिर उन्होंने बोला 100 -120 रनों तक मैं 6 से 7 छक्के मार चुका था फिर उन्होंने बताया कि उसके बाद वहां सहवाग के पास जाकर तेंदुलकर ने जाकर बंद करने को कहा। यह बात को सुनकर गांगुली ने बोला बंद करबा दिया इसका मतलब मैंने कुछ समझा नहीं ? फिर सहवाग ने बताया कि तेंदुलकर ने उनको जाकर बोला था कि अगर तूने अबकी बार छक्का मारा तो मैं तुम्हे अपने बल्ले से पीटूंगा।

Stay Connected

267,512FansLike
1,200FollowersFollow
1,000FollowersFollow
https://news.google.com/publications/CAAqBwgKMIuXogswzqG6Aw?hl=hi&gl=IN&ceid=IN%3Ahi

Latest Articles