Monday, January 30, 2023
spot_img

बिहार के इस गाँव मे आज तक नहीं हुआ है कोई केस, खुद आपस मे सुलझा लेते है विवाद

आज कल के दौर में लोग शांति बहुत मुश्किल से ही ढूंढ पाते है। वाद-विवाद, कहा-सुनी यह हमारे जिंदगी में आम हो चुकी है। पर क्या आप जानते है कि एक ऐसे भी जगह है जहां आज तक कोई विवाद नही हुआ। जी हाँ सूबे के पहला वाद विवाद रहित गांव ध्रुवपट्टी है जहां रहने वाले लोगों पर एक भी केस नही है और सभी मिलजुलकर रहते है। अगर गांव में कभी कोई विवाद होता भी है तो गांव के लोग उसे आपस में ही सुलझा लेते हैं। उसे थाना व कोर्ट में पहुंचने नही देते हैं।

whatsapp

आपको बता दें की ध्रुवपट्टी गांव के इस उपलब्धि पर जिला प्रशासन ने वहां के मुखिया व सरपंच को प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया है। जिले के दो गांव घैलाढ़ प्रखंड के ध्रुवपट्टी व चौसा प्रखंड के अरजपुर पश्चिमी पंचायत के मधुरापुर को वाद रहित गांव घोषित किया गया है। वाद विवाद गांव की उपलब्धि मिलने के शुभ अवसर पर विधिक जागरूकता शिविर सह प्रशस्ति पत्र वितरण समारोह का आयोजन ध्रुवपट्टी के कार्तिक मंदिर परिसर में किया गया जहां जिला व सत्र न्यायाधीश रमेश चंद मालवीय,, जिलाधिकारी श्याम बिहारी मीणा, एसपी योगेंद्र कुमार सहित अन्य अधिकारियों ने जमकर तारिक की और मुखिया व सरपंच को पशस्ति पत्र दिया।

जिला व सत्र न्यायाधीश ने कहा

इस कार्यक्रम के आयोजन में पहुंचे जिला व सत्र न्यायाधीश ने कहा कि साल 2004 में 307 के तहत ध्रुवपट्टी गांव में एक मामला दर्ज हुआ था जो कोर्ट में काफी लंबे समय से चल रहा था। जब इस संबंध में मुझे पता चला तो मामले का त्वरित सुनवाई करते हुए निष्पादन कर दिया गया। आगे उन्होंने कहा कि आज वाद रहित गांव ध्रुवपट्टी में आकर बहुत ही खुशी महसूस हो रहा है। उन्होंने गांव के लोगों से अपील करते हुए कहा कि ऐसे ही गांव की छवि बनाये रखे और छोटे-मोटे मामलों को गांव स्तर पर सरपंच के समक्ष के ही सुलझाया जाए क्योंकि केस व मुकदमा से परिवार व गांव के विकास में बाधा आती है और इससे शांति भी भंग होती हैं।

जिलाधिकारी ने कहा

वही वहां मौजूद जिलाधिकारी ने कहा कि बिहार में ध्रुवपट्टी ऐसे पहला गांव है जो वाद विवाद रहित है। ऐसे में यह हमारे लिए बेहद खुशी की बात है। जिलाधिकारी ने आगे कहा की आज की तारीख में श्रीनगर पंचायत के आदर्श ग्राम ध्रुवपट्टी व अरजपुर पश्चिमी पंचायत के मधुरापुर में एक भी मुकदमा व केस नहीं है। यहां के जिस तरह से अपनी छोटी मोटी समस्याओं को आपस में सूझबूझ से सुलझा लेते है और बड़े बुजुर्गों के साथ मिल जुलकर रहते है वो सच में काबिले तारीफ है। दूसरे गांव के लोगों को भी इससे सीखना चाहिए। इतना ही नही जिलाधिकारी ने दूसरे गांव के लोगों से यह अपील कि है की मधेपुरा जिला के अन्य गांव भी इसी तरह वाद रहित होने का प्रयाश करें। एसपी ने कहा कि ध्रुवपट्टी व मधुरापुर गांव के वाद रहित होने पर बहुत ही प्रसन्नता हो रही है

whatsapp-group

Stay Connected

267,512FansLike
1,200FollowersFollow
1,000FollowersFollow
https://news.google.com/publications/CAAqBwgKMIuXogswzqG6Aw?hl=hi&gl=IN&ceid=IN%3Ahi

Latest Articles