Monday, February 6, 2023
spot_img

बिहार कैबिनेट विस्तार से पहले मांझी का बड़ा बयान, बोले चाइए मंत्री और MLC का पद

बिहार में जीतन राम मांझी का प्रेशर पॉलिटिक्स जारी है हम की राष्ट्रीय कार्यकारिणी बैठक के बाद मीडिया से बातचीत में जीतन राम मांझी ने कहा कि एमएलसी के पद के लिए जो मनोनयन होता है उसमें से एक पद हमको भी मिलना चाहिए.

whatsapp

बिहार में होने वाले संभावित मंत्रिमंडल विस्तार से पहले बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी ने एक मंत्री और एक एमएलसी की सीट मांग कर NDA की परेशानी बढ़ा दी है. मांझी ने तो यहां तक कह दिया कि अगर हमारी पार्टी सभी 7 सीटों पर चुनाव जीती होती तो सत्ता की चाबी आज हमारे पास होती. आपको बता दें कि बिहार विधानसभा चुनाव के दौरान मांझी ने महागठबंधन से नाता तोड़कर एनडीए में शामिल हुए एनडीए में उन्हें 7 सीटें मिली. जीतन राम मांझी की पार्टी ने सात सीटों पर चुनाव लड़ा जिनमें से उनके चार विधायक चुनाव जीते.

14 जनवरी के बाद होगा मंत्रिमंडल का विस्तार

जीतन राम मांझी ने संकेत दिए कि 14 जनवरी के बाद मंत्रिमंडल का विस्तार होगा उन्होंने कहा कि नीतीश कुमार के कारण ही हुआ है राज्य के मुख्यमंत्री बनाए गए हैं अगर उन्होंने साथ नहीं दिया होता तो मेरा मुख्यमंत्री बनना मुश्किल था. लगे हाथों मांझी ने मौके पर चौका मारना चाहा. जीतन राम मांझी ने कहा कि नीतीश कुमार पर उन्हें पूरा भरोसा है वह चाहेंगे कि उनकी पार्टी को एक मंत्री का और पद मिले आपको बता दें कि जीतन राम मांझी के पुत्र डॉक्टर संतोष कुमार सुमन को पहले ही मंत्री बनाया जा चुका है.

मांझी ने कहा कि हमारी पार्टी बंगाल, झारखंड और दिल्ली में अपना जनाधार मजबूत करेगी. मांझी ने बिहार की सभी इकाईयों को भंग करते हुए कहा कि जिस पार्टी कि नीति ठीक है, उस पार्टी को जनता का सहयोग मिलता है. हमारे समाज के लोग विधायक, मंत्री बन जाते हैं लेकिन समाज की जरूरत भूल जाते हैं. हमारी पार्टी का ऐंजेडा है कि निजी क्षेत्र में आरक्षण मिलना चाहिए. हमें न्यायपालिका में भी आरक्षण चाहिए और सबको एक समान शिक्षा मिलना चाहिए. इसको लेकर अगर आने वाले समय में आंदोलन करना पड़ेगा तो जरूर करेंगे.

whatsapp-group

राष्ट्रीय कार्यकारिणी बैठक मे मांझी ने कहा

जीतन राम मांझी ने राष्ट्रीय कार्यकारिणी बैठक के दौरान कहा कि हमारी पार्टी दिल्ली, झारखंड और बंगाल में अपना जनाधार मजबूत करेगी. उन्होंने कहा हमारे समाज के लोग विधायक मंत्री बन जाते हैं लेकिन समाज की जरूरत भूल जाते हैं. हमारी पार्टी का एजेंडा है कि निजी क्षेत्र में आरक्षण मिलना चाहिए उन्होंने कहा इस को लेकर अगर आने वाले समय में आंदोलन करना पड़ेगा तो जरूर करेंगे. बिहार में नीतीश कुमार पर जीतन राम मांझी दबाव बनाए रखना चाहते हैं जीतन राम मांझी बखूबी जानते हैं कि भले ही उनकी पार्टी के 4 विधायक हैं लेकिन जरा सी टूट से पूरी सरकार गिर सकती है इसलिए पर नीतीश कुमार पर दबाव बना रहे हैं.

Stay Connected

267,512FansLike
1,200FollowersFollow
1,000FollowersFollow
https://news.google.com/publications/CAAqBwgKMIuXogswzqG6Aw?hl=hi&gl=IN&ceid=IN%3Ahi

Latest Articles