हैदराबाद की IAS अफसर हरि चांदना ने ग्रीन गवर्नेंस से पूरे जिले में ला दी क्रांति – जानें उनकी उपलब्धियों के बारे में

हमारे देश में आई ए एस के पद को सबसे प्रतिष्ठित पदों में से एक माना जाता है। यहां पहुंचने की प्रक्रिया इतनी कठिन है जो इसको खास बनाती है । यहां तक पहुंचना देश के अधिकांश युवाओं का सपना होता है। कुछ इस पद को पाकर युवाओं का मार्गदर्शन करते हैं तो कुछ इस पद पर रहते हुए ऐसे काम करते हैं जो उदाहरण के पात्र बनते हैं। ऐसा ही कुछ कर दिखाया है आईएएस हरि चांदना ने जोकि नारायनपेट की कलेक्टर है । वे 2010 बैच की आईएएस अफसर है जो की तेलांगना कैडर में पोस्टेड है ।

उनकी अध्यक्षता में जीएचएमसी वेस्ट जोन पहला ISO certified सरकारी कार्यालय बना। इतना ही नहीं श्रीमती चांदना ने कई सामाजिक कल्याण योजनाओं को लागू किया जिसमें एक आकृति पेट पार्क एंड कैफे , बच्चों के लिए पंचतंत्र थीम पार्क , plastic recycling और पुनः उपयोग इत्यादि शामिल है । उन्हें योजनाओं के लिए कई बार कई सारे पुरस्कारों से सम्मानित किया गया है । तो अभी आपको बताते हैं इस प्रभावशाली आईएएस अफसर के बारे में ।

श्रीमती चांदना के पिता भी आईएएस अफसर रहे हैं और उनका तबादला अलग-अलग जगह होता रहता था। इसके चलते उनकी शुरुआती पढ़ाई मध्य प्रदेश में तेलंगाना के अलग-अलग 14 स्कूलों में हुई ।

इसके बाद उन्होंने हैदराबाद के सेंट एंस कॉलेज से ग्रेजुएशन की डिग्री हासिल की। उन्होंने हैदराबाद विश्वविद्यालय से ही पोस्ट ग्रेजुएशन की पढ़ाई पूरी की। उन्होंने लंदन स्कूल ऑफ़ इकोनॉमिक्स से एमएससी की डिग्री पर्यावरण अर्थशास्त्र विषय में हासिल की । उन्होंने 2010 में यूपीएससी की परीक्षा पास की जो कि उनका दूसरा प्रयास था । यही नहीं बल्कि उनके पति भी आईआरएस अफसर है ।

whatsapp channel

google news

 

मिल चुके है कई पुरुस्कार

श्रीमती चांदना को उनके किए गए विशेष कार्य के लिए उन्हें कई पुरस्कार से भी सम्मानित किया गया। उन्हें इस वर्ष प्रशासन उत्कृष्टता अवार्ड के लिए चुना गया है । उन्हें राष्ट्रीय पर्यटन पुरस्कार 2017 से भी सम्मानित किया जा चुका है । श्रीमती चांदना करती है कि उनके माता-पिता बचपन से उनकी प्रेरणा स्रोत रहे हैं और अब उनके बच्चे भी उनकी प्रेरणा स्रोत के रूप में काम कर रही है । बच्चे उनको प्रेरणा देती है कि आने वाली जनरेशन के लिए हम एक बेहतर दुनिया बना सके । आईएएस हरि चांदना हमारे देश के युवाओं के लिए एक प्रेरणा स्रोत है । हम इनके जज्बे को सलाम करते हैं ।

Share on

Leave a Comment