सेवा परमों धर्मा! मिलिये डॉ. नूरी परवीन से, जो मात्र 10 रुपये में करती हैं रोगियो का इलाज

आज के युग में पढ़ाई से लेकर अस्पतालों तक सबकुछ महँगा हो गया है। महंगाई के इस जमाने में जहां बड़े अस्पतालों में मध्यम वर्गीय और गरीबों के लिए इलाज कराना असंभव हैं, ऐसे में आंध्र प्रदेश की एक यंग डॉक्टर ने मिसाल कायम किया है। महज 10 रुपये फीस में लोगों का इलाज कर डॉक्टर नूरी परवीन आज समाज में एक उदहारण के तौर पर सामने आई है। आर्थिक रूप से कमजोर परिवार को ध्यान में रखते हुए नूरी परवीन ने प्रति मरीज केवल 10 रुपये फीस लेने का फैसला किया है।

आंध्र प्रदेश के विजयवाड़ा से ताल्लुक रखने वाली नूरी परवीन एक मध्यम वर्गीय परिवार में पली बड़ी है। उन्होंने अपनी 12वीं तक कि पढ़ाई पूरी कर कडप्पा जिले के ही एक मेडिकल कॉलेज से मेडिकल ग्रेजुएशन पूरा किया इसके बाद उन्होंने अपनी काबिलियत के दम पर एंट्रेंस टेस्ट पास कर मेडिकल सीट हासिल की। अपनी मेडिकल सीट मिलने के बाद नूरी ने यह तय कर लिया वह अब जरूरतमंदों की सेवा के लिए खुद को समर्पित कर देंगी।

एक मीडिया हाउस को इंटरव्यू के दौरान नूरी परवीन ने बताया कि उन्होंने जानबूझ कर अपना क्लिनिक कडप्पा के गरीब इलाके में खोला ताकि लोगों को इलाज के लिए आसानी हो। नूरी ने आगे बताया कि उनके इस क्लिनिक खोलने के आइडिया के बारे में उनके घर वालों को जानकारी नही थी लेकिन जब उन्हें इस बात की जानकारी हुई की वह इतने कम शुल्क में लोगों का इलाज कर रही है तो उनके माता पिता बेहद खुश हुए और उन्हें खूब आशीर्वाद दिया।

माता -पिता से प्रेरित

नूरी ने बताया कि अपने माता -पिता से प्रेरित होकर उन्होंने समाज सेवा की ओर अपना कदम बढ़ाया। उन्होंने बताया कि उनके माँ-पापा ने तीन अनाथ बच्चों को गोद लिया और उन्हें बेहतर शिक्षा देने के लिए हर व्यवस्था की। इन्ही सब से नूरी भी बहुत प्रेरित हुई जिसके बाद उन्होंने यह फैसला लिया।आपको बता दें कि आमतौर पर आंध्र प्रदेश के कडप्पा में डॉक्टरों की फीस 150-200 है लेकिन नूरी का यह फैसला गरीबों के लिए एक उम्मीद की तरह है। बात करें अगर नूरी परवीन के शुल्कों की तो मरीजों को देखने के लिए नूरी 10 रुपये और रोगियों के लिए प्रति बीएड केवल 50 रुपये चार्ज करती हैं।

whatsapp channel

google news

 
Share on

Leave a Comment