अरे भाई सीएम चुनना है पीएम थोड़े ना, पीएम मोदी के विज्ञापन पर बोला RJD, जाने पूरा मामला!

बिहार विधानसभा चुनाव प्रथम चरण के होने मे अब काफी कम दिन शेष रह गए हैं। इसलिए आज शाम मे इसके लिए प्रचार प्बंद हो जाएगा। ऐसे में सभी पार्टियां काफी जोरों से प्रचार में लगी हुई है। भाजपा ने तो प्रचार में काफी ज्यादा ही फोकस किया है। सारे समाचार पत्र और न्यूज़ पोर्टल पर प्रधानमंत्री मोदी   की फोटो लगी  हुईओ बड़े बड़े विज्ञापन छपवाए है। इसी पर तंज कसते हुए आरजेडी ने बड़ा बयान दिया है आरजेडी ने कहा है कि यह कोई पीएम का चुनाव नहीं है बल्कि बिहार के सीएम का चुनाव है।

बता दें कि आज भाजपा नेता समाचार पत्रों के पहले पेज पर ही अपने विज्ञापन छपवा आए हैं। बिहार के सभी बड़े बड़े समाचार पत्रो के फ्रंट पेज पर ही प्रधानमंत्री मोदी जी नज़र आ रहे हैं। इतना ही नहीं ऑनलाइन सभी न्यूज़ वेबसाइट पर भी भाजपा के विज्ञापन आ रहे हैं।

Source Twitter

परंतु गौर करनी वाली बात यह है इन विज्ञापनों में मोदी जी का ही जिक्र है, सभी विज्ञापन में बस मोदी जी ही नज़र आ रहे हैं, इन्हीं के स्कीम को भी इस में दर्शाया गया है। इनके विज्ञापन में कहीं भी नीतीश जी नजर नहीं आ रहे हैं।इसी को लेकर आरजेडी ने तंज़ कसते कहा की ये कोई पीएम का चुनाव नहीं है बल्कि बिहार के सीएम का चुनाव हो रहा है।

Source Twitter

जनता नीतीश कुमार से काफी गुस्से में

अब इसे लेकर थोड़ा भाजपा और जदयू के रिश्ते में भी संशय पैदा होने लगा है। प्रधानमंत्री मोदी जी जब बिहार आए थे तो उन्होंने भी चिराग पासवान के विरोध में कोई बयान नहीं दिया था। अब बीजेपी के इस प्रकार से प्रचार करने से और लोगों के मन में ज्यादा भ्रम पैदा हो गया है।भाजपा के कुछ नेताओं ने अपना नाम उजागर नहीं करने की शर्त पर बताया कि इस बार नीतीश सरकार से बिहार की जनता काफी त्रस्त हो गई है।

whatsapp channel

google news

 

लगातार जनसभा में उनके विरोध मे नारेबाजी होती दिखी है। इस बार बिहार की जनता नीतीश कुमार से काफी गुस्से में है। इतना ही नहीं नीतीश कुमार के कई मंत्री के अपने क्षेत्र में भ्रमण करने पर उनके साथ दुर्व्यवहार किया गया है। इसी वजह से भाजपा जदयू के साथ फूख फूख कर   अपना कदम आगे बढ़ा रहे हैं क्योंकि भाजपा का अपना जनाधार है और इसकी लोकप्रियता अभी भी काफी है।

परंतु जदयू के साथ चुनाव लड़ने की वजह से ही लोग इस बार एनडीए गठबंधन के साथ नहीं दिख रहे हैं। शायद यही वजह रहा हो कि बीजेपी अपने हुमेसा से लोकप्रिय रहे नेता प्रधानमंत्री मोदी जी को ही फ्रंट पर ला दिया है और इन्हीं के चेहरे पर अब बिहार चुनाव को जीतने की कोशिश कर रही है,क्यूकी बिहार मे बीजेपी और कोई बड़ा चेहरा तो है नहीं। पर राजद के इसपर बयान देने पर अब फिर से बीजेपी बैकफुट पर चली गई है क्योंकि लोग समझ रहे हैं कि बिहार में प्रधानमंत्री मोदी तो काम करने नहीं आएगे। अगर यहां एनडीए गठबंधन जीतता है तो नीतीश कुमार ही मुख्यमंत्री बनेंगे।

Share on

Leave a Comment