Monday, January 30, 2023
spot_img

अरुण कुमार सिंह बिहार के नए मुख्य सचिव बनाए गए, दीपक कुमार बने सीएम के प्रधान सचिव

आखिरकार बिहार को एक नया मुख्य सचिव (चीफ सेक्रेट्री) मिल ही गया । पूर्व में विकास आयुक्त (डेवलपमेंट कमिश्नर) रहे अरुण कुमार सिंह ने रेस में चल रहे कई नामों को पीछे छोड़ते हुए बिहार के मुख्य सचिव के पद के लिए बाजी मार ली है। सामान्य प्रशासन विभाग ने एक अधिसूचना जारी कर बताया है कि बिहार के नए चीफ सेक्रेट्री अरुण कुमार सिंह को बनाया गया है।

whatsapp

आपको बता दें कि पूर्व मुख्य सचिव दीपक कुमार सेवानिवृत्त हो रहे हैं। उन्हें मुख्यमंत्री का प्रधान सचिव (प्रिंसिपल सेक्रेटरी) बनाया गया है। यह जानकारी मंत्रिमंडल सचिवालय ने जारी की है।
वही गृह विभाग के अपर मुख्य सचिव आमिर सुबहानी को विकास आयुक्त का प्रभार दिया गया है। श्री सुबहानी के पास पहले से ही बिहार लोक प्रशासन, ग्रामीण विकास संस्थान विभाग का महानिदेशक का पद है। इसके अलावा उनके पास निगरानी विभाग का भी अतिरिक्त प्रभार है।

1984 बैच के आईएएस अधिकारी दीपक कुमार

अगर बात दीपक कुमार की करें तो 1984 बैच के आईएएस अधिकारी को मुख्य सचिव के पद पर रहते हुए दो बार अवधि विस्तार (एक्सटेंशन) मिल चुका है। आपको यह भी बता दें कि राज्य सरकार ने उन्हें तीसरी बार अवधि विस्तार के लिए केंद्र से अनुमति मांगी थी जो कि केंद्र ने अस्वीकार कर दी जिस वजह से उन्हें सेवानिवृत्त होना पड़ रहा है। जिसके बाद राज्य सरकार ने 2 फरवरी 2002 को राबड़ी देवी की सरकार में निकाले गए आदेश के अनुसार दीपक कुमार को प्रधान सचिव नियुक्त किया। दरअसल तत्कालीन मुख्यमंत्री राबड़ी देवी के आदेश के मुताबिक राज्य सरकार भारतीय सेवा से सेवानिवृत्त होने वाले अधिकारियों को भी मुख्यमंत्री का प्रधान सचिव नियुक्त कर सकती है।

1985 बैच के अधिकारी अरुण कुमार सिंह

बिहार के नए मुख्य सचिव अरुण कुमार सिंह 1985 बैच के भारतीय प्रशासनिक सेवा के अधिकारी हैं। वरीयता की दृष्टि से देखें तो वह उनका नंबर सबसे पहले आता है इसी वजह से उन्हें प्राथमिकता दी गई है। हालांकि इसी वर्ष 31 अगस्त को वह रिटायर हो जाएंगे। वर्तमान में वह विकास आयुक्त के अलावा बिहार लोक प्रशासन और ग्रामीण विकास संस्थान के महानिदेशक का अतिरिक्त प्रभार भी है। उन्होंने आईएएस में आने से पहले मैकेनिकल इंजीनियरिंग की पढ़ाई की थी। अरुण विकास आयुक्त के पहले जल संसाधन विभाग में प्रधान सचिव के रूप में कार्यरत थे। इसके अलावा उन्होंने पथ निर्माण विभाग , सूचना और प्रौद्योगिकी विभाग में भी काम किया है।

whatsapp-group

अमित सुबहानी बने नए विकास आयुक्त

वहीं अगर बात बिहार के नए विकास आयुक्त अमित सुबहानी की करें तो वह 1987 बैच के सांख्यिकी से पोस्ट ग्रेजुएट अधिकारी है। वह सिवान जिले से आते है। उनका कार्यकाल 30 अप्रैल 2024 तक है। इस तरह से बिहार में कई अन्य अधिकारियों का भी ट्रांसफर (तबादला) किया गया है। जिसमें जल संसाधन विभाग के प्रधान सचिव चैतन्य प्रसाद का ट्रांसफर गृह विभाग के प्रधान सचिव के रूप में हुआ है। उन्हें मद्य निषेध विभाग और निबंधन उत्पाद विभाग की अतिरिक्त जिम्मेदारी दी गई है। वही रवि मनु भाई परमार को लघु जल संसाधन विभाग के प्रधान सचिव के पद पर स्थापित किया गया है। इसके अलावा उन्हें युवा विभाग और कला संस्कृति की भी अतिरिक्त जिम्मेदारी दी गई है।

आपको बता दें कि सूचना और प्रौद्योगिकी विभाग के सचिव के पद पर संतोष कुमार मल्ल को नियुक्त किया गया है। वही प्रेम सिंह मीणा को वित्त विभाग की जिम्मेदारी दी गई है। एससी–एसटी कल्याण विभाग के प्रधान सचिव के रूप में दिवेश सेहरा को जिम्मेदारी मिली है। वही संजीव हंस जो की ऊर्जा विभाग के सचिव हैं उन्हे जल संसाधन विभाग की अतिरिक्त जिम्मेदारी दी गई है।

Stay Connected

267,512FansLike
1,200FollowersFollow
1,000FollowersFollow
https://news.google.com/publications/CAAqBwgKMIuXogswzqG6Aw?hl=hi&gl=IN&ceid=IN%3Ahi

Latest Articles