अभी भी बन सकती है महागठबंधन की सरकार, 12 सीटे के लिए RJD ने तैयार किया प्लान

बिहार विधानसभा चुनाव में इस बार एनडीए गठबंधन को बहुमत मिला है, परंतु इस बार एनडीए गठबंधन मैं पार्टियों का समीकरण मे बड़ा उलटफेर हुआ है। इस बार भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) एनडीए मे सबसे ज्यादा सीटे लाई है, वही जदयू ने इस बार 43 सीटें ही जीत पाई है। महागठबंधन की राष्ट्रीय जनता दल (RJD) इस बार सबसे सीटें जीत कर बिहार के सबसे बड़ी पार्टी बनी है। महागठबंधन   मात्र अपने बहुमत से 12 सीटें दूर है इसलिए महागठबंधन अभी भी हार नहीं मानी है और बिहार में सरकार बनाने के लिए नए समीकरण बनाने की तैयारी में लगी हुई है।

VIP और HAM से कर रहे संपर्क

महागठबंधन अपने पूर्व दो सहयोगी बीआईपी और हम से संपर्क साधने की कोशिश में लगी हुई है। अंग्रेजी अखबार द इंडियन एक्सप्रेस की एक रिपोर्ट में ऐसा दावा किया गया है कि आरजेडी मुकेश सहनी की अगुवाई वाले विकासशील इंसान पार्टी (VIP) और जीतन राम मांझी की अगुवाई वाली पार्टी हिंदुस्तान आवाम मोर्चा (HAM) से संपर्क करने की कोशिश कर रही है। इसके अलावा पार्टी हैदराबाद से सांसद अकबरुद्दीन ओवैसी की पार्टी (AIMIM) से भी बातचीत में लगी हुई है।

रिपोर्ट में कहा गया है कि अगर 5 सीटें AIMIM और 4 सीटें VIP और HAM के आरजेडी हिस्से में आ जाए तो बात बन सकती है। आपको बता दें कि हम और बीआईपी चुनाव से पहले महागठबंधन के ही साथ थी परंतु चुनाव के ठीक  पहले हिंदुस्तान आवाम मोर्चा और और विकासशील इंसान पार्टी NDA में शामिल हो गए थे।रिपोर्ट मे ऐसा कहा गया है कि कोशिश करने में क्या जाता, अगर VIP और HAM हमारे साथ आ जाए तो यह निश्चित है कि हम सरकार बना पाएंगे। AIMIM हमें समर्थन देने के लिए राजी हो गई है।

सूत्रों से जानकारी के अनुसार अभी तक VIP और HAM से कोई सकारात्मक जवाब नहीं मिल पाया है। लेकिन आरजेडीके द्वारा कहा गया की हमारे रास्ते हमेशा से खुले हुए हैं। मुकेश सहनी अगर डिप्टी सीएम बनना चाहते हैं तो हमारी पार्टी है इसके लिए तैयार है।

whatsapp channel

google news

 

VIP को डिप्टी सीएम देने की पेशकस

इंडियन एक्सप्रेस की रिपोर्ट के मुताबिक VIP और HAM के नेताओं ने भी इस बात की पुष्टि की है कि आरजेडी हमारे संपर्क में हैं लेकिन उनका भी एनडीए से छोड़कर जाने का कोई भी फैसला नहीं हो पाया है। सूत्रों से पता चला है कि हमें डिप्टी सीएम और मंत्री पद देने की पेशकश की जा रही है, हमने अपने नेताओं से इस बारे में बात की लेकिन वे लोग NDA में ही खुश हैं, इसके अलावा अगर हम इतनी जल्दी इधर-उधर करेंगे तो हमारे वोटरो पर इसका विपरीत प्रभाव पड़ेगा।

AIMIM साथ आने के लिए राजी

वही AIMIM के द्वारा कहा गया कि हमें विभाजन ताकतों को रोकने के लिए जो भी करना पड़ेगा हम उसके लिए हमेशा तैयार हैं, हां यह सही है कि हमें लोगों के जनादेश का सम्मान करना चाहिए, हम इसका सम्मान करेंगे और उसी के अनुसार अपना निर्णय लेंगे।

वहीं एक अन्य आरजेडी नेता ने कहा कि कि हमारी कुछ राजनीतिक गलतियों के कारण आज हमारी यह स्थिति हुई है, हम लोगों का VIP और कांग्रेस को लेकर आकलन गलत निकला। कांग्रेस को इतनी सीटी नहीं देनी चाहिए थी, कांग्रेश हमारे लिए बोझ साबित हुई, यही सीट अगर हम लेफ्ट और VIP को देते तो आज हमारी सरकार होती है।

Share on

Leave a Comment