Monday, January 30, 2023
spot_img

Indian Army Day: क्यो 15 जनवरी को मानाया जाता है आर्मी दिवस, क्या है इस खास दिन का पूरा इतिहास?

Indian Army Day 2023: भारत और भारतीय सेना के गौरव की कहानी पूरी दुनिया में प्रचलित है। भारत हर साल भारतीय सेना के पराक्रम दिवस को 15 जनवरी के दिन मनाता है। ऐसे में जनवरी 2023 में भारतीय सेना का 75वां आर्मी डे मनाया जाएगा। यह दिन सिर्फ भारतीय सेना के लिए ही नहीं, बल्कि पूरे देश के लिए एक गर्व का मौका होता है क्योंकि हम इस मौके पर अपने देश के बहादुर जवानों का सम्मान करते हैं एवं उनके बलिदानों को सलाम करते हैं, जिन्होंने अपने हर दिन को देश के लिए बलिदान कर दिया। भारतीय सेना दिवस हमारे देश के सशस्त्र बलों में प्रत्येक सैनिक के उस निस्वार्थ सेवाभाव को समर्पित करने का दिन है, जिसने निस्वार्थ भाव से देश की सेवा की जिनकी वजह से हम अपने घरों में सुरक्षित रहते हैं।

whatsapp

Indian Army Day 2023

क्या है आर्मी डे का इतिहास?

हर साल देशभर के तमाम हिस्सों में सभी सेना कमान कार्यालयों और नई दिल्ली के मुख्यालयों पर 15 जनवरी को आर्मी डे मनाया जाता है। बात भारतीय सेना दिवस के इतिहास की करें तो बता दें कि ब्रिटिश शासन के मद्देनजर 1 अप्रैल 1995 को आधिकारिक तौर पर भारतीय सेना की स्थापना की गई थी। इस दौरान सेना के नेतृत्व का पदभार संभाल रहे भारतीय लेफ्टिनेंट जनरल केएम करिअप्पा ने 15 जनवरी 1949 को इस पदभार को संभाला था। इसी दिन ही उनकी नियुक्ति इस पद पर हुई थी। तब से 15 जनवरी भारत के इतिहास के लिए एक महत्वपूर्ण दिन बन गया, क्योंकि ऐसा पहली बार था जब किसी भारतीय सैनिक ने देश की सशस्त्र सेना की कमान संभाली थी।

Indian Army Day 2023

whatsapp-group

देश भर में होता है जश्न का महौल

भारतीय सेना दिवस यानी आर्मी डे केवल बहादुर सैनिकों का उत्सव दिवस नहीं है बल्कि यह पूरे देश के लिए गौरव का क्षण है, क्योंकि ब्रिटिश शासन से भारत में सत्ता के हस्तांतरण के मद्देनजर भी यह गर्व और उत्साह की अनुभूति कराता है। यही कारण है कि हर साल इस दिन सभी सेना कमान मुख्यालयों में 15 जनवरी को भारतीय आर्मी दिवस के तौर पर पूरे उत्साह और गर्व के साथ मनाया जाता है।

Stay Connected

267,512FansLike
1,200FollowersFollow
1,000FollowersFollow
https://news.google.com/publications/CAAqBwgKMIuXogswzqG6Aw?hl=hi&gl=IN&ceid=IN%3Ahi

Latest Articles